A A A A A
Bible Book List

2 समूएल 11Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

दाऊद बतसेबा स मिलत ह

11 बसन्त मँ, जब राजा जुद्ध बरे बाहेर निकरत हीं दाऊद योआब, ओकर अधिकारियन अउर सबहिं इस्राएलियन क अम्मोनियन क नस्ट करइ बरे पठएस। योआब क फउज राजधानी रब्बा पइ भी हमला किहस।

मुला दाऊद यरूसलेम मँ रूक। साँझ क उ अपने बिछउना स उठा। उ राजमहल क छत पइ चारिहुँ कइँती घूमा। जब दाऊद छत पइ रहा, उ एक ठु मेहरारू क नहात लखेस। मेहरारू बहोत सुन्नर रही। एह बरे दाऊद अपने सेवकन क बोलाएस अउर ओनसे पूछेस कि उ मेहरारू कउन रही? एक सेवक जवाब दिहस, “उ मेहरारू एलीआम क बिटिया बतसेबा अहइ। उ हित्ती ऊरिय्याह क मेहरारू अहइ।”

दाऊद बतसेबा क अपने लगे बोलावइ बरे दूत पठएस। जब उ दाऊद क लगे आइ, तउ उ ओकरे संग सारीरिक सम्बन्ध किहस। उ नहाएस [a] अउर उ अपने घरे चली गइ। किन्तु बतसेबा गर्भवती भइ। उ दाऊद स कहइ बरे सब्द पठाएस: “मइँ गर्भवती हउँ।”

दाऊद अपने पाप क छुपावइ चाहत ह

दाऊद योआब क सँदेसा पठएस, “हित्ती ऊरिय्याह क मोरे लगे पठवा।”

एह बरे योआब ऊरिय्याह क दाऊद क लगे पठएस। ऊरिय्याह दाऊद क लगे आवा। दाऊद ऊरिय्याह स बात किहस। दाऊद ऊरिय्याह स पूछेस कि योआब कइसा अहइ, फउजी कइसे अहइँ अउर जुद्ध कइसे चलत अहइ। तब दाऊद ऊरिय्याह स कहेस, “घरे जा अउर आराम करा।”

ऊरिय्याह राजा क महल तजेस। राजा ऊरिय्याह क एक ठु भेटं भी पठएस। किन्तु ऊरिय्याह अपने घर नाहीं गवा। ऊरिय्याह राजा क महल क दुआरे पइ सोएस। उ उहइ तरह सोएस जइसे राजा क दूसर सेवक सोएन। 10 सेवकन दाऊद स कहेन, “ऊरिय्याह अपने घरे नाहीं गवा।”

तब दाऊद ऊरिय्याह स कहेस, “तू लम्बी जात्रा स आया। तू घरे काहे नहीं गवा?”

11 ऊरिय्याह दाऊद स कहेस, “पवित्तर सन्दूख अउ इस्राएल क यहूदा फउजियन अउ सिबिर मँ ठहरत अहइँ। मोर सुआमी योआब अउर मोर सुआमी दाऊद क अधिकारियन खुला मैदानन मँ सिबिर डाए पड़े अहइँ। एह बरे इ नीक नाहीं कि मइँ घर जाउँ, खाऊँ, पिअउँ अउर अपनी पत्नी क संग सोऊँ। मइँ आपन अउर तोहार जिन्नगी क किरिया खात हउँ, कि मइँ अइसा नाहीं करब।”

12 दाऊद ऊरिय्याह स कहेस, “आजु हिअइँ ठहरा। भियान मइँ तोहका जुद्ध मँ वापस पठउब।”

ऊरिय्याह उ दिन यरूसलेम मँ ठहरा। उ अगले भिंसारे तलक रूका। 13 तब दाऊद ओका आवइ अउ खाइ क बरे बोलाएस। ऊरिय्याह दाऊद क संग पिएस अउ खाएस। दाऊद ऊरिय्याह क नसा मँ कइ दिहस। किन्तु ऊरिय्याह, फुन भी घरे नाहीं गवा। उ साँझ क ऊरिय्याह राजा क सेवकन क संग राजा क दुआर क बाहेर सोवा।

दाऊद ऊरिय्याह क मउत क जोजना बनावत ह

14 अगले भिंसारे, दाऊद योआब बरे एक ठु पत्र लिखेस। दाऊद ऊरिय्याह क उ पत्र लइ जाइ क दिहस। 15 पत्र मँ दाऊद लिखेस: “ऊरिय्याह क कतार क आगे मँ रखा जहाँ पइ जुद्ध मुसकिल होत ह। तब ओका अकेले तजि द्या अउर ओका जुद्ध मँ मारा जाइ द्या।”

16 जब योआब नगर क घेर लिहस तउ उ लखेस कि सब स जियादा बीर अम्मीनी जोधा कहाँ अहइँ। उ ऊरिय्याह क हुवाँ जाइ बरे चुनेस। 17 नगर (रब्बा) क आदमी योआब क खिलाफ लड़इ क आएन। दाऊद क कछू फउजी मारे गएन। हित्ती ऊरिय्याह ओन लोगन मँ स एक रहा।

18 तब योआब दाऊद क जुद्ध मँ जउन भवा, ओकर खबर पठएस। 19 योआब दूत स कहेस: “राजा दाऊद क इ सबइ जउन जुद्ध मँ का भवा ह क पाछे। 20 होइ सकत ह कि राजा कोहाइ जाइ। होइ सकत ह कि राजा पूछइ, ‘योआब क फउज नगर क निचके लड़इ काहे गइ? का इ योआब अहइ मालूम नाहीं कि लोग नगर क देवारन स भी बाण चलाइ सकत हीं? 21 का ओका याद नाहीं कि यरुब्बेसेत क पूत अबीमेलेक क कउन मारेस? हुवाँ एक ठु मेहरारू नगर-दीवार पइ रही जउन अबीमेलेक क ऊपर चक्की क ऊपरी पाट लोकाएस। उ मेहरारू ओका तेबेस मँ मार डाएस। तू देवार क निचके काहे गया?’ (जदि राजा दाऊद इ पूछत ह) तउ तोहका जवाब देइ चाही: ‘आप क सेवक हित्ती ऊरिय्याह भी मर गवा।’”

22 दूत गवा अउर उ दाऊद क उ सब बताएस जउन ओका योआब कहइ क कहे रहा। 23 दूत दाऊद स कहेस, “अम्मोन क लोग जिअत रहेन उ पचे बाकेर आगन अउ उ पचे खुले मैदान मँ हम पइ हमला किहेन। किन्तु हम लोग ओनसे नगर-दुआर पइ लड़ेन। 24 नगर देवार क फउजियन अपने अधिकारियन पइ बाण चलाएन। आप क कछू अधिकारियन मारे गएन। आप क अधिकारी हित्ती ऊरिय्याह भी मारा गवा।”

25 दाऊद दूत स कहेस, “तोहका योआब स इ कहब अहइ: ‘इ परिणाम स उदास न होइ। एक तरवार एक क वइसा ही मारत ह जइसा दूसर क। रब्बा नगर पइ खौफनाक हमला करा। तब तू उ नगर क नस्ट करब्या।’ योआब क एन सब्दन स प्रोत्साहित करा।”

दाऊद बतसेबा स बियाह करत ह

26 बतसेबा सुनेस कि ओकर भतार ऊरिय्याह मर गवा। तब उ अपने भतार बरे रोइ। 27 जब उ सोक क समइ पूरा कइ लिहेस, तब दाऊद ओका अपने घरे मँ लिआवइ बरे सेवकन क पठएस। उ दाऊद क मेहरिया होइ गइ, अउर उ दाऊद बरे एक ठु पूत पइदा किहस। दाऊद जउन बुरा काम किहस यहोवा ओका पसन्द नाहीं किहस।

Footnotes:

  1. 2 समूएल 11:4 उ नहाएस साब्दिक, एकर अरथ अहइ कि “उ अभी ही आपन मासिक-धर्म स मुक्त भएस ह।” एकर अरथ अहइ कि उ आपन मासिक-धर्म क आखरी दिन मँ सुद्धीकरण बरे नहाएस जइसा रीति क अनुसार होत ह।
Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes