A A A A A
Bible Book List

2 राजा 25Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

25 एह बरे बाबेल क राजा नबूकदनेस्सर अपनी सारी फउज क संग यरूसलेम क खिलाफ जुद्ध करइ आवा। सिदकिय्याह क राज्ज क नौवें बरिस क दसवें महीने क दसवें दिन इ घटना घटित भइ। नबूकदनेस्सर यरूसलेम क चारिहुँ कइँती डेरा डाएस। तब उ पचे यरूसलेम क चारिहुँ कइँती ढलवान खड़ी किहन। नबूकदनेस्सर क फउज यरूसलेम क चारिहुँ कइँती सिदकिय्याह क यहूदा मँ सासनकाल क गियारहवे बरिस तलक बनी रही। उ नगर मँ भुखमरी क दसा बद स बदतर होत जात रही। चउथे महीने क नौवे दिन साधारण लोगन बरे कछू भी भोजन नाहीं रहि गवा रहा।

नबूकदनेस्सर क फउज नगर प्राचीर मँ एक ठु छेद बनाएस। उ राति क राजा सिदकिय्याह अउर ओकर सारे फउजी पराइ गएन। उ पचे राजा क बाग क सहारे दुइ देवारन क दुआर स बच निकरेन। बाबेल क फउज नगर क चारिहुँ कइँती रही। किन्तु सिदकिय्याह अउर ओकर फउज रेगिस्ताने कइँती क सड़क पइ पराइ निकरेन। बाबेल क फउज सिदकिय्याह क पाछा किहस अउर ओका यरीहो क लगे रेगिस्तान मँ पकड़ लिहस। सिदकिय्याह क सारी फउज पराइ गइ अउर ओका अकेला छोड़ दिहस।

बाबेल सिदकिय्याह क रिबला मँ बाबेल क राजा क लगे लइ गएन। बाबेल क राजा सिदकिय्याह क दण्ड देइ क निर्णय लिहस। उ पचे सिदकिय्याह समन्वा ओकरे पूतन क मार डाएस। तब उ पचे सिदकिय्याह क आँखिन निकारि लिहन। उ पचे ओका जंजीरे मँ जकरेन अउर ओका बाबेल लइ गएन।

यरूसलेम क नस्ट कइ दीन्ह गवा

नबूकदनेस्सर क बाबेल क सासनकाल क उन्नीसवे बरिस क पँचवे महीने क सतवे दिन नबूजरदान यरूसलेम आवा। नबूकदनेस्सर क अंगरच्छकन क नायक नबूजरदान रहा। नबूजरदान यहोवा क मन्दिर अउ राजमहल बार डाएस। नबूजरदान यरूसलेम क सबहिं घरन क भी बार डाएस। उ बड़की इमारतन क भी बार डाएस।

10 तब नबूजरदान क संग जउन बाबेल क फउज रही उ यरूसलेम क चारिहुँ कइँती क देवारन क महराइ दिहस। 11 अउर नबूजरदान ओन सबहिं लोगन क धरेस जउन तब तलक नगर मँ बचे रह गए रहेन। नबूजरदान सबहिं लोगन क बन्दी बनाइ लिहस अउर ओनका भी जउन आत्मसमर्पण करइ क कोसिस लिहन। 12 नबूजरदान सिरिफ साधारण मनइयन मँ सब स गरीब लोगन क हुवाँ रहइ दिहस। उ ओन गरीब लोगन क हुवाँ अंगूर अउर दूसर फसलन क देखरेख क बरे रहइ दिहस।

13 बाबेल क फउजी यहोवा क मन्दिर क काँसे क वस्तुअन क टूकन कइ डाएन। उ पचे काँसे स स्तम्भन, काँसे क गाड़ी क अउर काँसे क बिसाल सरोवर क भी टूकन कइ डाएन, तब बाबेल क फउजी ओन काँसे क टूकन क बाबेल लइ गएन। 14 कसदियन बर्तन, बेलचे, दीप-झारू चम्मच अउर काँसे क बर्तन जउन यहोवा क मन्दिर मँ काम आवत रही, क भी लइ गवा। 15 नबूजरदान सबहिं कढ़ाहियन अउ पियालन क लइ लिहस। उ जउन सोने क बने रहेन ओनका सोना क बरे अउर जउन चाँदी क बने रहेन ओनका चाँदी क बरे लिहस। 16-17 जउन चिजियन उ लिहस ओनकर सूची इ अहइ: दुइ काँसे क खम्भा, एक हौज अउर गाड़ियन जेका सुलैमान क जरिये यहोवा क मन्दिर बरे बनावा गवा रहा। इन चिजियन मँ लगा काँसा ऍतना भारी रहा कि ओका तोला नाहीं जाइ सकत रहा। हर एक स्तम्भ लगभग सत्ताइस फुट ऊँचा रहा। स्तम्भन क सीर्स काँसे क बने रहेन। हर एक सीर्स साढ़े चार फुट ऊँचा रहा। हर एक सीर्स पइ जाल अउ अनार क नमूना बना रहा। एकर सब कछू काँसे क बना रहा। दुइनउँ खम्भन पइ एक ही प्रकार क आहतियन रहिन।

बन्दी बनावा गए यहूदा क लोग

18 तब नबूजरदान मन्दिर स महायाजक सरायाह, दूसरा याजक सपन्याह अउर तीन दुआर रच्छनन क लिहस।

19 नगर मँ नबूजरदान एक ठु अधिकारी क लिहस। उ सेना क सेनापति रहा। नबूजरदान राजा क पाँच सलाहकारन क भी लिहस जउन नगर मँ पाए गएन। अउर उ सेनापति क सचिव क लिहस। सेनापति क सचिव उ मनई रहा जउन साधारण लोगन क गणना करत रहा अउर ओनमाँ स कछू क फउजी क रूप मँ चुनत रहा। नबूजरदान साठ दूसर लोगन क भी लिहस जउन नगर मँ पाए गएन।

20-21 सेनापति तब नबूजरदान एन सबहिं लोगन क रिबला मँ बाबेल क राजा क सम्नवा लइ गवा। बाबेल क राजा हमात क छेत्र रिबला मँ एनका मार डाएस। इ तरह यहूदा क लोगन क कैदी बनाइके ओनका, ओनके देस स निर्वासित कीन्ह गवा।

गदल्याह, यहूदा क सासक

22 बाबेल क राजा नबूकदनेस्सर यहूदा देस मँ कछू लोगन क छोड़ दिहे रहा। उ अहीकाम क पूत गदल्याह क यहूदा क ओन लोगन पइ राज्जपाल बनाएस। अहीकाम सापान क पूत रहा।

23 जब फउज क सबहिं सेनापतियन अउ सिपाहियन सुनेन कि बाबेल क राजा गदल्याह क राज्जपाल बनाएस ह। तउ उ पचे गदल्याह क लगे मिस्पा मँ आएन। फउजी सेनापतियन मँ नतन्याह क पूत इस्माएल, कारेहू क पूत योहानान, नतोपाई तन्हूमेत क पूत सरायाह अउ माकाई क पूत याजन्याह रहेन। 24 तब गदल्याह इ फउजे क सेनापतियन अउर ओनके मनइयन अउर ओनके मनइयन क बचन दिहस। गदल्याह ओनसे कहेस, “बाबेल क अधिकारियन स जिन डेराअ। इ देस मँ रहा अउर बाबेल क राजा क सेवा करा। तब तोहरे पचन्क संग सब कछू ठीक रही।”

25 किन्तु सतवें महीने राजा क परिवारे क एलीसामा क पोता व नतन्याह क पूत इस्माएल दस मनसेघुअन क संग आवा अउ गदल्याह क मार डाएस। उ पचे मिस्पा मँ गदल्याह क संग जउन यहूदी अउ कासदी रहेन, ओनका भी मार डाएस। 26 तब सबहिं लोग सब स कम महत्वपूर्ण अउर सब स जियादा अउ सेना क नायक मिस्र क पराइ गएन। उ पचे एह परे पराइन कि उ पवे कसदियन स ससान रहेन।

27 पाछे राजा एवील्मरोदक बाबेल क राजा बना। उ यहोयाकीन क जेल स आज़ाद कई दिहस। इ यहूदा क राजा यहोयाकीन क बन्दी बनाए जाइ क सैतीसवें बरिस मँ भवा। इ एवील्मरोदक क सासन सुरू करइ क बारहवें महीने क सत्ताइसवें दिन भवा। 28 एवील्मरोदक यहोयाकीन स दयापूर्वक बातन किहस। एवील्मरोदक यहोयाकीन क बाबेल मँ रहइवाले ओकरे सबहिं साथी राजा लोगन स जियादा ऊँच स्थान प्रदान किहस। 29 एवील्मरोदक यहोयाकीन क बन्दीगृह क वस्त्रन क पहिरब बन्द करवाएस। यहोयाकीन एवील्मरोदक क संग एक ही मेज पइ खाएस। उ अपनी बाकी जिन्नगी मँ हर एक दिन अइसा ही किहस। 30 इ तरह राजा एवील्मरोदक यहोयाकीन क जिन्नगी भर नियमित रूप स रह दिन क भोजन दिहस।

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes