A A A A A
Bible Book List

1 समूएल 25Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

दाऊद अउ नाबाल

25 समूएल मरि गवा। इस्राएल क सबहिं मनइयन बटुर गएन अउर उ पचे समूएल क मउत प अफसोस परगट किहेन। उ पचे समूएल क ओकरे घर रामा मँ दफनाइ दिहेन।

तब्बइ दाऊद परन क रेगिस्तान मँ चला गवा। हवाँ एक ठु मनई रहा जउन माओन मँ रहत रहा। उ बहोत धनी मनई रहा। ओकरे लगे तीन हजार भेड़ी अउर एक हजार बोकरी रहिन। उ कमेर्ल मँ आपन भेड़ी क ऊन काटत रहा। उ मनई क नाउँ नाबाल रहा। उ कालेब क परिवार क रहा। ओकरी मेहरारु क नाउँ अबीगैल रहा। उ बुद्धिमती अउ बहोतइ सुन्नर मेहरारु रही। मुला नाबाल कार नीच रहा।

दाऊद रेगिस्ताने मँ रहा, अउर उ सुनेस कि नाबाल आपन भेड़ी क ऊन काटत बाटइ। ऍह बरे दाऊद दस जवानन क नाबाल स बात करइ पठएस। दाऊद कहेस, “कम्रेल जा। जबल स भेंटा अउर ओका मोरी कइँती स ‘पैलगी’ कहा।” दाऊद नाबाल बरे इ संदेसा पठएस, “मोका आसा अहइ कि तू अउ तोहार परिवार सुखी अहइ। मइँ आसा करत हउँ कि जउन कछू तोहार अहइ, ठीक ठाक बाटइ। मइँ सुनेउँ ह कि तू आपन भेड़ी स ऊन काटत बाट्या। तोहार गड़रियन कछू समइ तलक हम पचन क संग रहत रहेन। अउर हम पचे ओनका कउनो कस्ट नाहीं दीन्ह। जब तलक तोहार गड़रिया कमेर्ल मँ रहेन, हम ओनसे कछू नाहीं लीन्ह। आपन सेवकन स पूछा अउर उ पचे बताइ देइहीं कि इ सब कछू फुरे अहइ। कृपा कइके हमरे जवानन प दाया करा। इ खुसी क मौका प हम पचे आपक लगे पहुँचत अही। कृपा कइके आप जउन कछू चाहइँ, दइ देइँ। कृपा कइके इ मोरे बरे, आपन मीत दाऊद बरे करइँ।”

दाऊद क मनई नाबाल क लगे गएन। उ पचे दाऊद क सँदेसा नाबाल क दिहन। 10 मुला नाबाल ओनकइ बरे छोटपन स बेउहार किहस। नबत कहस, “दाऊद अहइ कउन? इ जेसे क पूत कउन होत ह? इ दिनन ढेरिके दास बाटेन जउन आपन सुआमी लोगन क हिआँ स पराइ ग अहइँ। 11 मोरे लगे रोटी अउ पानी अहइ। अउर मोरे लगे उ माँस भी अहइ जेका मइँ भेड़ी स ऊन कतरइ वालन नउकरन बरे मारिके लिहेउँ ह। मुला मइँ ओका उ मनइयन क नाहीं दइ सकत हउँ जेनका मइँ जानत भी नाहीं हउँ।”

12 दाऊद क मनइयन लउटि गएन अउर नाबाल जउन कछू कहे रहा दाऊद क बताइ दिहस। 13 तब दाऊद आपन मनइयन स कहेस, “आपन तरवार उठावा।” ऍह बरे दाऊद अउ ओकर मनइयन तरवार उठाइ लिहन। लगभग चार सौ मनई दाऊद क संग गएन। अउर दुइ सौ मनई सामान क संग रुका रहेन।

अबीगैल मसीबत क रोकत ह

14 नाबाल क नउकरन मँ स एक ठु नाबाल क मेहरारु अबीगैल स बतियान। नउकर कहेस, “दाऊद रेगिस्तान स आपन दूतन क हमरे सुआमी (नाबाल) क लगे पठएस। मुला नाबाल दाऊद क दूतन क संग आपन निचकई क बेउहार किहस। 15 इ पचे हम पचन बरे बहोत भला रहेन। हम पचे भेड़ी लइके खेतन मँ जात रहेन। दाऊद क मनइयन हमरे संग बराबर रहेन। अउर उ पचे हमरे संग कउनो बुरा नाहीं किहेन। उ पचे पूरे समइ मँ हमार कछू भी नाहीं चोराएन। 16 दाऊद क मनइयन दिन रात हमार रच्छा किहेन। उ पचे हम लोग बरे चहरदेवार क नाई रच्छक रहेन। उ पचे हमार रच्छा तबहिं किहेन जब हम पचे भेड़ी क रखवारी करत भए ओनकइ संग रहेन। 17 अब इ बारे मँ सोचा अउर तय करा कि तू का कइ सकत ह। नाबाल कछू कहेस उ मूरखपन स भरा अहइ। हमार सुआमी अउर ओकरे समूचइ परिवार बरे अला बला आवति अहइ।”

18 अबीगैल हाली किहस। उ दुइ सौ पाव रोटी, दुइ दाखरस स भरा मसक, पाँच ठु भुना भइ भेड़ी, लगभग एक बुसल भुना भवा अनाज, दुइ र्क्वाट मुनक्का अउर दुइ सौ झूरान अंजीर क टिकिया लिहेस अउ ऍका गदहन प लादि दिहस। 19 तब अबीगैल आपन नउकरन स कहेस, “आगे चलत रहा। मइँ तोहरे पाछे आवति अहउँ।” मुला उ आपन भतार स कछू नाहीं कहेस।

20 अबीगैल आपन गदहा प बइठी अउर पहाड़े क दूसर कइँती पहुँची। उ दूसर कइँती स आवत भइ दाऊद अउ ओकरे मनइयन स भेटेस।

21 अबीगैल स मिलइ क पहिले दाऊद कहत रहा, “मइँ नाबाल क धन दौलत क रच्छा रेगिस्तान मँ कीन्ह। मइँ चिन्तित रहा कि ओकर कउनो भेड़ी खोवइ नाहीं। मइँ इ सब कछू बिना लिहे किहेउँ। मइँ ओकरे बरे नीक किहेउँ। मुला उ मोरे बरे कछू नीक नाहीं किहे रहा। 22 परमेस्सर मोका सजा देइ जदि मइँ नाबाल क परिवारे क कउनो एक मनई क जिअत रहइ देउँ।”

23 ठीक उहइ टेमॅ प अबीगैल आइ। मुला जब अबीगैल दाऊद क लखेस। उ हाली हाली आपन गदहा स उतरि पड़ी। उ दाऊद क समन्वा प्रणाम करइ निहुरी। उ आपन माथा भुइँया प टेकेस। 24 अबिगैल दाऊद क गोड़े प गिर पड़ी। उ कहेस, “मान्न, कृपा कइके मोका कछू कहइ देइँ। जउन मइँ कहउँ ओका सुना। जउन कछू भवा ओकरे बरे मोका दोख द्या। 25 मइँ उ मनइयन क नाहीं लखेउँ जेनका आप पठएन ह। साहब! उ बेकार मनई (नाबाल) प धियान जिन द्या। उ ठीक उहइ अहइ जइसे ओकर नाउँ अहइ। अउर उ फुरे ‘मूरख’ अहइ। 26 यहोवा आप क बेकसूर मनइयन क मारइ स रोकेस ह। फुरइ जइसे यहोवा हमेसा रहत ह वइसे आप जिअत अहइँ। मइँ आसा करत हउँ कि आपक दुस्मन लोग अउर जउन आप क नोस्कान पहुँचावइ चाहत हीं, उ सबइ नाबाल क राज्ज मँ होइहीं। 27 अब मइँ आप बरे इ भेंट लइ आइ अहउँ। कृपा कइके इ चीजन क आप उ मनइयन क दइ देइँ जउन आप क पाछे चलत हीं। 28 जुर्म करइ बरे मोका छिमा करइँ। मइँ जानत हउँ कि यहोवा आप क परिवार क मजबूत करिहीं अउ तोहरे परिवारे स ढेर क राजा अइहीं। यहोवा इ करिहीं काहेकि आप सब ओनके बरे जुद्ध करत हीं। मनइयन तब तलक आप मँ बुराई न पइहीं जब तलक आप जिअत रइहीं। 29 जदि कउनो मनई आप क मारि डावइ क पाछा करत ह, तउ यहोवा आपक परमेस्सर आपक जिन्नगी क रच्छा करिहीं। मुला यहोवा ओकर जिन्नगी क अइसे दूरि लोकइहीं जइसे गुलेल स पाथर लोकाइ दीन्ह जात ह। 30 यहोवा आप बरे बहोत स नीक चीजन क करइ क प्रण किहेस ह। अउर यहोवा आपन सबहिं वचन क पूरा करिहीं। परमेस्सर आप क इस्राएल क राजा बनइहीं। 31 अउर आप बेकसूर मनई क मारि डावइ क अपराधी न होइहीं। अउ आप इ जाल मँ न फँसिहीं। मेहराबानी कइके मोका उ टेम मँ याद राखा जब यहोवा आप क सफलता देइ।”

32 दाऊद अबीगैल क उत्तर दिहेस, “इस्राएल क परमेस्सर, यहोवा क गुण गावा। परमेस्सर तोहका मोसे भेंटइ पठए अहइ। 33 परमेस्सर तोहार नीक निर्णय बरे तोहका आसीर्बाद देइँ। तू आज मोका बेकसूर मनइयन क मारइ स बचावा। 34 सचमुच जइसे इस्राएल क परमेस्सर, यहोवा हमेसा रहत ह, जदि तू जल्दी स मोसे भेंटइ न आइ होती तउ भियान भिन्सारे तलक नाबाल क परिवार क कउनो भी मनई जिअत नाहीं बच पावत।”

35 तउ दाऊद अबीगैल क भेंट क अंगीकार किहस। दाऊद ओसे कहेस, “सान्ति स घर जा। मइँ तोहार बातन क सुनेउँ ह अउर मइँ उहइ करब जउन तू करइ क कहया ह।”

नाबाल क मउत

36 अबीगैल नाबाल क लगे लउटी। नाबाल घरे मँ मोजूद रहा। नाबाल एक ठु राजा क तरह भोज खात रहा। नाबाल जी भरिके दाखरस पिए रहा। उ बहोत जियादा पिए रहा। ऍह बरे अबीगैल नाबाल क दूसर भिन्सारे तलक कछू भी नाहीं बताएस। 37 दूसर दिन भिन्सारे ओकर नसा उतरा। ऍह बरे ओकर मेहरारु हर बात बताइ दिहस। फिन नाबाल क दिल क दउरा पड़ि गवा। उ चट्टान क नाई कठोर होइ गवा। 38 दस दिनाँ क पाछे यहोवा नाबाल क मरि जाइ दिहस।

39 दाऊद सुनेस कि नाबाल मरि गवा अहइ। दाऊद कहेस, “यहोवा क गुन गावा। नाबाल मोरे खिलाफ खराब बात किहेस ह, मुला यहोवा मोर समर्थन किहस। यहोवा मोका पाप करइ स बचाएस। अउर यहोवा नाबाल क मरि जाइ दिहस काहेकी उ अपराध किहे रहा।”

तब दाऊद अबीगैल क सँदेसा पठएस। दाऊद ओका आपन मेहरारू होइ क कहेस। 40 दाऊद क नउकर कार्मल गएन अउ अबीगैल स कहेस, “दाऊद हम पचन क तोहका लइ आवइ क पठएस ह। दाऊद चाहत ह कि तू ओकर मेहरारु बना।”

41 अबीगैल भुइँया तलक आपन माथा निहुराएस। उ कहेस, “मइँ आपक दासी अहउँ। मइँ सुआमी क सेवकन क गोड़ धोवइ बरे तइयार अहउँ।”

42 अबीगैल फउरन गद्हा प बइठी अउ दाऊद क दूतन क संग चल दिहस। अबीगैल आपन संग पाँच ठु नउकरानी लइ आइ। उ दाऊद क मेहरारु बनी। 43 दाऊद यिज्रेल क अहिनोअम स बियाह किहेस। अहिनोअम अउ अबीगैल दुइनउँ दाऊद क मेहरारु रहिन। 44 दाऊद साऊल क बिटिया मीकल स भी बियाह किहे रहेस। मुला साऊल ओका लइ लिहस अउर ओका एक मनई जेकर नाउँ पल्ती रहा, जउन लैस क पूत अउर गल्लीम क निवासी रहा ओकर क संग बियाही दिहस।

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes