A A A A A
Bible Book List

हबक्कूक 2Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

“मइँ पहरे क मीनारे पइ जाइके खड़ा होबउँ।
मइँ हुआँ आपन जगह लेब अउर रखवारी करब।
    मइँ इ लखइ क इंतजार करब कि उ मोसे का कहत ह।
मइँ इंतजार करब अउर इ जान लेब कि मोरे सिकाइत क बारे मँ मोका का जवाब देइ चाही।”

परमेस्सर क जरिये हबक्कूक क सुनवाई

यहोवा मोका जवाब दिहस, “मइँ तोहका कछू देखावत हउँ, तू ओका लिख ल्या। सूचना पट्टी पइ एका साफ़-साफ़ लिख द्या ताकि लोग आसानी स ओका बाँचि सकइँ। इ संदेस अगवा आवइवाला एक खास समइ क बारे मँ अहइ। इ सँदेस आखिरी समइ क बारे मँ अहइ अउ इ सच्च सिद्ध होइ। अइसा लग सकत ह कि वइसा समइ तउ कबहुँ आइ हीं नाहीं। मुला धीरा क संग ओकर इंतजार करा। उ समइ आइ अउर ओका देर नाहीं लागी। इ संदेस ओन लोगन क मदद नाहीं कइ पाइ जउन एह पइ कान देइ स इनकार करत हीं। मुला सज्जन इ संदेस पइ बिस्सास करी अउर आपन बिस्सास क कारण सज्जन जिअत रही।”

परमेस्सर कहेस, “दाखरस मनई क गुमराह कइ सकत ह। इहइ तरह कउनो सक्तीसाली मनई क ओकर घमण्ड मूरख बनाइ देत ह। उ मनई क सान्ति नाहीं मिली। मउत क नाई कबहुँ ओकर पेट नाहीं भरत उ हर समइ जियादा स जियादा इच्छा करत रहत ह अउर मउत क नाई ही ओका कबहुँ तृप्ति नाहीं मिली। उ दूसर देसन क हरावत रही। उ दूसर देसन क ओन लोगन क आपन परजा बनावत रही। निहचय ही, इ सबइ लोग ओकर हँसी मसखरी उड़ावत भए इ कहिहीं, ‘ओह पइ हाथ पड़इ जउन एतने दिनन तलक लूटत रहा ह। जउन अइसे ओन चिजियन क हथियावत रहा ह जउन ओकर नाहीं रहिन। जउन केतने ही लोगन क आपन कजेर् क बोझे तरे दबावत रहा ह।’

“का तू नाहीं जानत कि उ सबइ जउन तोहका ऋण दिहेस ह तोहार खिलाफ उठिके खड़ा होइहीं? उ पचे उठिहीं अउर तोहका क कपाइहीं अउर उ तोहार चिजियन मँ स जउन कछू उ चाहत ह लेइ जाइहीं। तू बहोत स देसन क चिजियन लूट्या ह। तउ उ पचे तोहसे अउर जियादा लेइहीं। तू बहोत स लोगन क हत्तिया किहा ह। तू खेतन अउर सहरन क बर्बाद किहा ह। तू हुआँ सबहिं लोगन क मार डाया ह।

“सुना! जउन गलत तरीके स धन जमा किहेस ह! ओनका ओकर परिणाम भुगतइ क होइ। तू पचे सोचा करत ह कि तू आपन चिजियन चोरावइ स दूसर मनई क रोक सकत ह। मुला इ तोहार बरे बहोत बुरा होइ। 10 तू बहोत स लोगन्क नास करइ क जोजना बनाइ रख्या ह। ऐसे तोहार आपन लोगन ही लज्जित होइ अउर तोहका भी आपन जान स हाथ धोवइ क पड़ी। 11 तोहरे घरे क देवारन क पाथर तोहरे खिलाफ गवाही देइहीं। हिआँ तलक कि तोहार घरे क छते क सहतीरन भी इ घोसणा करइहीं कि तू बुरा महईर् अहा।

12 “हाय लागइ उ बुरे अधिकारी पइ जउन खून बहाइके एक सहर क निर्माण करत ह अउर दुट्ठता क जरिये चहारदीवारे स मिला एक ठु सहर क सुद़ृढ बनावत ह। 13 सर्वसक्तीमान यहोवा इ ठान लिहस ह कि ओ लोग जउन कछू बनाए रहेन, उ सब कछू क एक ठु आगी भसम कइ देइ। ओनकर समूचा स्रम बेकार होइ जाइ। 14 फुन सब कहूँ क लोग यहोवा क महिमा क जान जइहीं अउर एक खबर अइसे सँचर जाइ जइसे समुद्दरे मँ पानी फइला होइ। 15 तू जउन आपन पड़ोसियन क दाखरस पिलावत ह, सुना! तू आपन ज़हर क मिलावत ह अउ ओका पिलावत ह ताकि तू ओकरे नग्नता क लखि सकीं।

16 “तू पचे सम्मान क जगह लज्जा स भरि जाब्या। तू पचे जरूर पीउब्या तउ तू पचे आपन नग्नता क प्रदसिर्त करब्या।

“उ पियाले स पिआ जउन यहोवा क दाहिने हाथे मँ अहइ। तउ तू पचे सम्मान क जगह पई लज्जा पाउब्या। 17 लबानोन मँ तू बहोत स लोगन क हत्तिया किहा ह। तू हुआँ बहोत स गोरु लूट्या ह। तउ जउन लोग मारा गवा रहेन, तू ओनसे ससाइ जाब्या अउर तू उ देस बरे जउन बुरी बातन किहेन, ओनके कारण तू डेराइ जाब्या। ओन सहरन क संग अउर ओन सहरन मँ बसइयन क संग जउन कछू तू किह्या ह, ओनसे तू डेराइ जाब्या।”

मूर्तियन क निरर्थकता क सँदेस

18 ओकर इ लबार देवता, ओकर रच्छा नाहीं कइ पाइ काहेकि उ तउ बस एक अइसी मूर्ति अहइ जेका कउनो मनई धातु स मढ़ दिहेस ह। उ सिरिफ एक ठु मूरति अहइ। एह बरे जउन मनई खुद ओका बनावत ह, ओसे मदद क अपेच्छा नाहीं कइ सकत। उ मूर्ति तउ बोल तलक नाहीं सकत। 19 धिक्कार अहइ उ मनई क जउन एक ठु काठपुतरी स कहत ह, “ओ देवता, जागि उठा।” उ मनई क धिक्कार अहइ जउन एक ठु अइसी पाथर क मूरति स बोल तलक नाहीं पावत, कहत ह, “ओ देवता, उठि बइठा।” काहे उ कछू बोली अउर ओका राह देखाइ। उ मूरति चाहे सोना स मढ़ी होइ, चाहे चाँदी स, मुला ओहमाँ परान तउ बाटइ ही नाहीं।

20 मुला यहोवा एहसे अलग अहइ। यहोवा अपने पवित्तर मँदिर मँ रहत ह। एह बरे यहोवा क समन्वा संपूर्ण पृथ्वी क चुपचाप रहिके ओकरे बरे आदर परगट करइ चाही।

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes