A A A A A
Bible Book List

यिर्मयाह 34Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

यहूदा क राजा सिदकिय्याह क चिताउनी

34 यहोवा क इ सँदेसा यिर्मयाह क मिला। इ सँदेसा उ समइ मिला जब बाबुल क राजा नबूकदनेस्सर यरूसलेम अउर ओकरे चारिहुँ ओर क सबहिं नगरन स जुद्ध करत रहा। नबूकदनेस्सर अपने सारी फउज अउर सासित राज्जन अउ साम्राज्य क लोगन क मिलाए भए रहा।

सँदेसा इ रहा: “यहोवा इस्राएल क लोगन क परमेस्सर जउन कहत ह, उ इ अहइ: यिर्मयाह, यहूदा क राजा सिदकिय्याह क लगे जा अउर ओका इ सँदेसा द्या: ‘सिदकिय्याह, यहोवा जउन कहत ह, उ इ अहइ: मइँ यरूसलेम नगर क बाबुल क राजा क हाली ही दइ देब अउर उ ओका जराइ डाइ। सिदकिय्याह, तू बाबुल क राजा स बचिके निकरि नाहीं पउब्या। तू निहचय ही पकड़ा जाब्या अउर ओका दइ दीन्ह जाब्या। तू बाबुल क राजा क आपन आँखिन स लखब्या। उ तोहसे आमने सामने बातन करी अउर तू बाबुल जाब्या। किन्तु यहूदा क राजा सिदकिय्याह यहोवा क दीन्ह ग वचन क सुना। यहोवा तोहरे बारे मँ जउन कहत ह, उ इ अहइ: तू तरवारे स नाहीं मारा जाब्या। तू सान्ति पूर्वक मरब्या। तोहार स पहिले जउन राजा राज्ज करत रहेन ओन पुरखन क सम्मान क बरे लोग आगी तैयार किहन। उहइ तरह तोहरे सम्मान बरे लोग आगी बनइहीं। उ पचे तोहरे बरे रोइहीं। उ पचे सोक मँ बूड़ा भवा कहिहीं, “हे स्वामी,” मइँ खुद तोहका इ बचन देत हउँ,’” यहोवा कहत ह।

एह बरे यिर्मयाह यहोवा क सँदेसा यरूसलेम मँ सिदकिय्याह क दिहेस। इ उ समइ भवा जब बाबुल क राजा क सेना यरूसलेम क खिलाफ लड़त रही। बाबुल क फउज यहूदा क ओन नगरन क खिलाफ भी लड़त रही जेन पइ अधिकार नाहीं होइ सका रहा। उ सबइ लाकीस अउ अजेका नगर रहेन। उ सबइ ही सिरिफ किलाबंद नगर रहेन जउन यहूदा प्रदेस मँ बचा रहेन।

लोग करार मँ स एक क तोड़ेन

सिदकिय्याह यरूसलेम क सबहिं निवासियन स इ करार किहे रहा कि मइँ सबहिं यहूदी दासन क मुवत कइ देब। जब सिदकिय्याह उ करार कइ लिहेस, ओकरे पाछे यिर्मयाह क यहोवा क इ सँदेसा मिला। हर मनई स आसा कीन्ह जात ह कि उ आपन यहूदी दासन क अजाद करइ। सबहिं यहूदी दास-दासी अजाद कीन्ह जाब रहेन। यहूदा क परिवार समूह क कउनो भी मनई क दास रखइ क संभावना कउनो भी मनई स नाहीं कीन्ह जाइ सकत रही। 10 एह बरे सबहिं प्रमुखन अउर यहूदा क सबहिं लोग इ करार क अंगीकार किहे रहेन। हर एक मनई आपन दास-दासियन क अजाद कइ देइ अउर ओनका अउर जियादा समइ तलक दास क रूप मँ नाहीं राखी। हर एक मनई सहमत रहा अउर इ तरह सबहिं दास अजाद कइ दीन्ह गएन। 11 किन्तु ओकरे पाछे ओन लोग जेनके लगे दास रहेन, आपन निर्णय क बदलाइ दिहन। एह बरे उ पच अजाद कीन्ह गए लोगन क फुन धइ लिहन अउर ओनका दास बनाएन।

12 तब यहोवा क सँदेसा क यिर्मयाह क मिला: 13 “यिर्मयाह, यहोवा इस्राएल क लोगन क परमेस्सर जउन कहत ह उ इ अहइ: ‘मइँ तोहरे पचन्क पुरखन क मिस्र स बाहेर लाएउँ जहाँ उ पचे दास रहेन। जब मइँ अइसा किहेउँ तब मइँ ओनसे एक करार किहेउँ। 14 मइँ तोहरे पचन्क पुरखन स कहेउँ, “हर एक सात बरिस क आखीर मँ प्रत्येक मनई क आपन यहूदी दासन क अजाद कइ देइ चाही। जदि तोहरे पचन्क हिआँ तोहार पचन्क अइसा यहूदी साथी अहइ जउन आपन क तोहरे पचन्क हाथ बेच चुका अहइ तउ तोहका ओका छ: महीना सेवा क पाछे अजाद कइ देइ चाही।” मुला तोहार पचन्क पुरखन न तउ मोर सुनेन, न ही ओह पइ धियान दिहेन। 15 कछू समइ पहिले तू पचे आपन हिरदय क, जउन उचित अहइ, ओका करइ बरे बदला। तू पचन्क मँ स हर एक ओन यहूदी साथियन क अजाद किहेस जउन दास रहेन अउर तू पचे मोर समन्वा उ मन्दिर मँ जउन मोरे नाउँ पइ अहइ एक करार भी किहा। 16 मुला अब तू पचे आपन इरादा बदल दिहे अहा। तू पचे इ परगट किहे अहा कि तू पचे मोरे नाउँ क सम्मान नाहीं करत्या। तू पचे इ कहेस किहा? तू पचन्मँ स हर एक आपन दास दासियन क वापस लइ लिहस ह जेनका तू पचे अजाद किहे रह्या। तू लोग ओनका फुन दास होइ बरे मजबूर किहा ह।’

17 “एह बरे जउन यहोवा कहत ह, उ इ अहइ: ‘तू लोग मोर आग्या क पालन नाहीं किहा ह। तू पचे आपन साथी यहूदियन क अजादी नाहीं दिहा ह। काहेकि तू पचे इ करार पूरी नाहीं किहा ह, एह बरे मइँ तोहका अजादी देब। इ यहोवा क सँदेसा अहइ। तरवार स, भयंकर बीमारी स अउर भूख स मारे जाइ क अजादी मइँ देब। मइँ तोहका पचन्क अइसा कर देब कि जब उ पचे तोहरे पचन्क बारे मँ सुनिहीं तउ पृथ्वी क समूचइ राज्ज भयभीत होइ उठिहीं। 18 मइँ ओन लोगन क दूसर लोगन क हाथ देब जउन मोर करार क तोड़ेन ह अउर उ प्रतिग्या क पालन नाहीं किहन जेका उ पचे मोरे समन्वा किहन ह। एन लोग मोरे समन्वा एक ठु बछवा क दुइ टुकन मँ काटेन अउर उ पचे दुइ टुकन क बीच स गुजरेन। 19 जउन उ समइ बछवा क टूकन बीच स गुजरेन जब उ पचे मोरे संग करार किहे रहेन: उ यहूदा अउ यरूसलेम क प्रमुख, कचहरी क बड़के अधिकारी, याजकन अउ उ देस क लोग। 20 एह बरे मइँ ओन लोगन क ओनकर दुस्मन क देब जउन ओनका मारि डावइ चाहत हीं। ओन मनइयन क ल्हास हवा मँ उड़इवाले पंछियन अउर पृथ्वी पइ क जँगली जनावरन क भोजन बनिहीं। 21 मइँ यहूदा क राजा सिदकिय्याह अउर ओकर प्रमुखन क ओनकर दुस्मनन अउर जउन ओनका मारि डावइ चाहत हीं, क देब। मइँ सिदकिय्याह अउर ओनके लोगन क बाबुल क राजा क फउज क तब भी देब जब उ फउज यरूसलेम क तजि चुकी होइ। 22 मुला मइँ कसदी फउज क यरूसलेम मँ फुन लउटइ क आदेस देब।’ इ सँदेसा यहोवा क अहइ। ‘उ फउज यरूसलेम क खिलाफ लड़ी। उ पचे एह पइ अधिकार करिहीं, एहमाँ आगी लगइहीं अउ एका बारि डइहीं अउर मइँ यहूदा क नगरन क बर्बाद कइ देब। उ सबइ नगर सूना रेगिस्तान होइ जइहीं। हुआँ कउनो मनई नाहीं रही।’”

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes