A A A A A
Bible Book List

मलाकी 4Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

“निआव क समइ आवत ह। इ गरम भट्ठी जइसा होइ। सबहिं घमण्डी मनई उ समइ सजा पइहीं। उ पचे सबहिं बुरा करम करइवाले लोग सूखी घास क तरह बरिहीं। उ पचे उ पेड़ क जइसा बरत होइहीं, जउन सिखर स ठुँठ तलक बिना कछू छोड़े बारत हीं” सर्वसक्तीमान यहोवा इ सब कहेस।

“मुला, तू सबइ जउन मोर नाउँ क सम्मान किहेस ह, तू पचन पइ अच्छाई उदय होत भए सूरज क तरह चमकी। इ सूरज क किरणन क तरह तन्दुरुस्ती लिआब्या। तू पचे अइसे ही अजाद अउ खुस होब्या जइसे अपने थान स अजाद भए बछवन। तब तू पचे ओन बुरे लोगन्क कुचरि डउब्या, उ पचे तोहरे सबन क गोड़े क नीचे राखी जइसे होइहीं। मइँ निआव क समइ इ सबइ घटना क घटित कराउब।” सर्वसक्तीमान यहोवा इ सब कहेस।

“मूसा क व्यवस्था क सुमिरा अउर अनुपालन करा। मूसा मोर सेवक रहा। मइँ होरेब पर्वते पइ ओन कानूनन अउ नेमन क ओका दिहेउँ। उ सबइ नेम इस्राएल क सबहिं लोगन बरे अहइँ।”

यहोवा कहेस, “लखा, मइँ नबी एलिय्याह क तोहरे लगे पठउब। उ यहोवा क हिआँ स उ महान अउ खउफनाक निआव क समइ स पहिले आइ। एलिय्याह महतारी-बाप अउर गदेलन क बीच पुन: रिस्ता कायम करी। वरना, मइँ, परमेस्सर आउब अउर तोहरे सबन क देस क पूरी तरह नस्ट करब।”

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes