A A A A A
Bible Book List

दूसर इतिहास 30Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

हिजकिय्याह फसह पर्व मनावत ह

30 हिजकिय्याह इस्राएल अउ यहूदा क सबहिं लोगन क सँदेसा पठएस। उ एप्रैम अउ मनस्से क लोगन क भी पत्तर लिखेस। हिजकिय्याह ओन सबहिं लोगन क यरूसलेम मँ यहोवा क मन्दिर मँ आवइ बरे न्यौतेस जेहसे उ सबइ सबहिं फसहपर्व यहोवा, इस्राएल क परमेस्सर बरे मनाइ सकइँ। हिजकिय्याह आपन सबहिं अधिकारियन अउ यरूसलेम क सभा क संग फसह पर्व दूसरे महीने मँ मनावइ बरे राज़ी होइ गएन। उ सबइ फसह पर्व क नियमित समइ स न मनाइ सकइँ। काहे काहेकि प्रायाप्त संख्याँ मँ याजक पवित्तर सेवा बरे अपने आप क तइयार नाहीं किहे रहा अउर दूसर कारण इ रहा कि लोग यरूसलेम मँ एकट्ठे न होइ सके रहेन। इ सुझाव राजा हिजकिय्याह अउर पूरी सभा क सन्तुट्ठ किहस। एह बरे उ पचे इस्राएल मँ बेसेर्बा नगर स लइके लगातार दान तलक हर एक जगह पइ घोसणा किहन। उ पचे लोगन स कहेन कि उ पचे यरूसलेम मँ यहोवा, इस्राएल क परमेस्सर बरे फसह पर्व मनावइ आवइँ। इस्राएल क बहोत बड़का समूह बहोत समइ स फसह पर्व उ तहर नाहीं मनाए रहा, जउने तरह मूसा क नेमन एका मनावइ क कहे रहेन। एह बरे दूत राजा क पत्तर पूरे इस्राएल अउर यहूदा मँ लइ गएन। ओन पत्रन मँ इ लिखा रहा:

“इस्राएल क सन्तानों, इब्राहीम, इसहाक अउर इस्राएल, जउन यहोवा, परमेस्सर क आग्या मानत रहेन ओकरे निअरे लोउटा। तब यहोवा तू लोगन क लगे वापस आइ जउन अस्सूर क राजा लोगन स बच गएन ह अउर अबहिं तलक जिअत अहइँ। अपने पुरखन अउर भाइयन क तरह न बना। यहोवा ओनका परमेस्सर रहा, मुला उ पचे ओका धोखा दिहेन। ऍह बरे उ ओन लोगन क बर्बाद होइ दिहस। तू खुद अपनी आँखी स इ लखि सकत ह। अपने पुरखन क तरह हठी जिन बना। अपितु सच्चे हिरदइ स यहोवा क आग्या माना। सब स जियादा पवित्तर जगह पइ आवा। यहोवा सब स जियादा पवित्तर जगह क सदा ही क बरे पवित्तर बनाएस ह। अपने यहोवा, परमेस्सर क सेवा करा। तब यहोवा क डरावना किरोध तोह पइ स हट जाइ। जदि तू यहोवा क लगे लउटब्या अउर ओकरे आग्या मनब्या तब तोहार सम्बन्धी, भाइयन अउर बच्चन ओन लोगन क दया पइहीं जउन ओनका बन्दी बनाएन ह अउर तोहार सम्बन्धी अउर बच्चन इ देस मँ लउटिहीं। यहोवा, तोहार परमेस्सर वृपालु अउ दयालु अहइ। जदि तू ओकरे लगे लउटब्या तउ उ तोहसे नाहीं मुरब्या।”

10 दूत एप्रैम अउ मनस्से क पहँटन क सबहिं नगरन मँ गएन। उ पचे लगातार पूरे जबूलून देस मँ गएन। किन्तु लोग दूतन क हँसी उड़ाएन अउर ओनकर मजाक उड़ाएन। 11 मुला आसेर, मनस्से अउ जबूलून देस क कछू लोग आपन क बिनम्र बनाएन अउर यरूसलेम गएन। 12 यहूदा मँ परमेस्सर क सक्ती लोगन क संगठित किहस ताकि उ पचे राजा हिजकिय्याह अउ ओकरे अधिकारियन क आग्या क पालन कइ सकत हीं। इ तरह उ पचे यहोवा क आग्या क पालन किहन।

13 बहोत स लोग एक संग यरूसलेम, दूसरे महीने मँ अखमोरी रोटी क उत्सव मनावइ आएन। इ बहोत बड़ी भीड़ रही। 14 ओन लोग यरूसलेम स लबार देवतन क वेदियन क हटाइ दिहन। उ पचे लबार देवतन क बरे सुगन्धि भेंट क वेदियन क भी हटाइ दिहन। उ पचे ओन वेदियन क किद्रोन क घाटी मँ लोकाइ दिहन। 15 तब उ पचे फसह पर्व क मेमने क दूसर महीने क चौदहवें दिन मारेन। याजक अउ लेवीबंसी लज्जित भएन। ऍह बरे उ पचे अपने क पवित्तर सेवा बरे तइयार किहन। याजक अउर लेवीबंसी होमबलि यहोवा क मन्दिर मँ लइ आएन। 16 मन्दिर मँ अपने बरे मुकर्रर जगह पइ उ पचे वइसे ही बइठेन जइसा परमेस्सर क मनई मूसा क नेम मँ कहा गवा रहा। लेवीबंसी लोग याजकन क रकत दिहन। तब याजक लोग रकत क वेदी पइ छिछकारेन। 17 उ समूह मँ बहोत स लोग अइसे रहेन जउन अपने क पवित्तर सेवा क बरे तइयार नाहीं किहे रहेन एह बरे उ पचे फसह पर्व क मेमने क मारइ क मँजूरी नाहीं पाइ सकेन। इहइ कारण रहा कि लेवीबंसी ओन सबहिं लोगन क बरे फसह पर्व क मेमने क मारइ क जिम्मेदार रहेन जउन सुद्ध नाहीं रहेन। लेवीबंसी हर एक मेमना क यहोवा क बरे पवित्तर बनाएन।

18-19 एप्रैम, मनस्से, इस्साकार अउर जबूलून क बहोत स लोग फसह पर्व उत्सव क बरे अपने क ठीक तरह स तइयार नाहीं किहे रहा। उ पचे फसह पर्व क मेमनन क खाएन जब कि उ पचे मूसा क नेम क अनुसार असुद्ध रहेन। मुला हिजकिय्याह ओन लोगन बरे पराथना किहस। एह बरे हिजकिय्याह इ पराथना किहस, “यहोवा, तू अच्छा अहा। इ सबइ लोग तू यहोवा हम लोगन क पुरखन क परमेस्सर क सेवा करइ बरे आपन पूरे दिल स तइयार रहेन। किन्तु उ पचे अपने क पवित्तर सेवा मँ भाग लेइ बरे नेम क अनुसार सुद्ध न कइ सकेन। ऍह बरे वृपा कइके ओन लोगन बरे प्रायस्चित करा।” 20 यहोवा राजा हिजकिय्याह क पराथना सुनेस। यहोवा लोगन क छिमा कइ दिहस। 21 इस्राएल क संतानन यरूसलेम मँ अखमीरी रोटी क उत्सव सात दिन तलक मनाएन। उ पचे बहोत खुस रहेन। लेवीबंसी अउ याजक लोग अपनी पूरी सक्ती स हर एक दिन यहोवा क स्तुति किहन। 22 राजा हिजकिय्याह ओन सबहिं लेवीबंसियन क उत्साहित किहस जउन अच्छी तरह समुझ गए रहेन कि यहोवा क सेवा कइसे कीन्ह जात ह। लोग सात दिन तलक पर्व मनाएन अउर मेलबलि च़ढ़ाएन। उ पचे अपने पुरखन क यहोवा परमेस्सर क धन्यवाद दिहन अउर ओकर स्तुति किहन।

23 सबहिं लोग सात दिन अउर ठहरइ क सहमत होइ गएन। एह बरे उ पचे सात अउर दिना तलक बहोत खुसी स फसह पर्व मनाएन। 24 यहूदा क राजा हिजकिय्याह उ सभा क एक हजार बर्धन अउ सात हजार भेड़िन मारइ अउर खाइ क बरे दिहेस। प्रमुखन सभा क एक हजार बर्धन अउ दस हजार भेड़िन दिहन। बहोत स याजक लोग पवित्तर सेवा बरे अपने क तइयार किहन। 25 यहूदा क पूरी सभा, याजक, लेवीबंसी, इस्राएल स आवइवाली पूरी सभा अउर उ सबइ यात्री जउन इस्राएल स आए रहेन अउ यहूदा पहोंच गए रहेन, सबहिं लोग बहोत जियादा खुस रहेन। 26 इ तरह यरूसलेम मँ बहोत आनन्द रहा। इ पर्व क समान कउनो भी पर्व इस्राएल क राजा, दाऊद क पूत सुलैमान क समइ क बाद स नाहीं भवा रहा। 27 याजक अउ लेवीबंसी खड़े भएन अउर यहोवा स लोगन क आसीर्वाद देइ क कहेन। परमेस्सर ओनकर सुनेस। ओनकर पराथना सरग मँ यहोवा क पवित्तर निवास तलक पहोंची।

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes