A A A A A
Bible Book List

दूसर इतिहास 24Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

योआस फुन मन्दिर बनावत ह

24 योआस जब राजा बना सात बरिस क राहा। उ यरूसलेम मँ चालिस बरिस तलक सासन किहस। ओकरी महतारी क नाउँ सिब्या रहा। सिब्या बेसेर्बा नगर क रही। योआस उ काम जउन यहोवा क नज़र मँ नीक अहा तब तलक करत रहेन जब तलक याजक यहोयादा जिअत रहा। यहोयादा योआस क बरे दुइ मेहररुअन चुनेस। योआस क पूत अउर बिटियन रहिन।

तब कछू समइ पाछे, योआस यहोवा क मन्दिर दुबारा बनावइ क निहचइ किहस। योआस याजकन अउ लेवीबंसियन क एक संग बोलाएस। उ ओनसे कहेस, “यहूदा क नगरन मँ जा अउर उ धने क बटोरा जेकर भुगतान इस्राएल क लोग हर बरिस करत हीं। उ धने क उपयोग परमेस्सर क मन्दिर दुबारा बनावइ मँ करो। हाली करा अउर एका पूरा कइ ल्या।” मुला लेवीबंसियन हाली नाहीं किहन।

एह बरे राजा योआस मुख्य याजक, यहोयादा क बोलाएस। राजा कहेस, “यहोयादा, तू यहूदा अउ यरूसलेम स यहोवा क सेवक मोसा दुआरा कर क धन वसूलइ बरे लेवीबंसियन क नाहीं लिहा? मूसा अउर इस्राएल क लोग पवित्तर तम्बू बरे इ कर क धन क उपयोग किहे रहेन।”

पुराने जमाने मँ अतल्याह क पूत, परमेस्सर क मन्दिर मँ जबरदस्ती घुस गए रहेन। उ पचे यहोवा क मन्दिर क पवित्तर चिजियन क उपयोग अपने बाल देवतन क पूजा क बरे किहस। अतल्याह एक ठु दुट्ठ मेहरारु रही।

राजा योआस एक ठु सन्दूख बनावइ क आदेस दिहेस अउर ओका यहोवा क मन्दिर क दुआरे क बाहेर रखइ क आदेस दिहस। तब लेविबंसियन यहूदा अउ यरूसलेम मँ इ घोसणा किहन। उ पचे लोगन स कर क धन यहोवा क बरे लिआवइ क कहेन। यहोवा क सेवक मूसा इस्राएल क लोगन स रेगिस्ताने मँ रहत समइ जउन कर क रुप मँ धन मँगे रहा ओतना ही इ धन अहइ। 10 सबहिं प्रमुख अउर सबहिं लोग खुस रहेन। उ पचे धन लइके आएन अउर उ पचे ओका सन्दूखे मँ डाएन। उ पचे तब तलक देत रहेन जब तलक सन्दूख नाहीं भरि गवा। 11 तब लेवीबंसियन क राजा क अधिकारियन क समन्वा सन्दूख लइ जाइ क पड़ी। उ पचे लखेन कि सन्दूख धन स भरि गवा ह। राजा क सचिव अउर प्रमुख याजक क अधिकारी आएन अउर उ पचे धने क सन्दूख स निकारेन। तब उ पचे सन्दूख क अपनी जगहिया पइ फुन वापस लइ गएन। उ पचे बार-बार किहन अउर धन बटोरेन। 12 तब राजा योआस अउर यहोयादा उ धन ओन लोगन क दिहस जउन यहोवा क मन्दिर क बनावइ क कार्य करत रहेन अउर यहोवा क मन्दिर बनावइ मँ कार्य करइवालन यहोवा क मन्दिर क दुबारा बनावइ बरे वुसल बढ़ई अउर काठे पइ खुदाई क कार्य करइवालन क मजदूरी पइ धरेन। उ पचे यहोवा क मन्दिर क दुबारा बनावइ बरे कँसे अउर लोहा क काम करइ क जानकरी रखइवालन क भी मजूरी पइ रखेन।

13 काम क निगरानी रखइवाले मनई बहोत बिस्सास क जोग्ग रहेन। यहोवा क मन्दिर क दुबारा बनावइ गवा। उ पचे परमेस्सर क मन्दिर क पहिले क तरह ही बनाएन अउर इ पहिले स जियादा मजबूत बनाएन। 14 जब कारीगरन कार्य पूरा कइ लिहन तउ उ पचे उ धने क जउन बचा रहा राजा योआस अउर यहोयादा क लगे लइ आएन। उ पचे धन क उपयोग यहोवा क मन्दिर बरे चिजियन बनावइ बरे किहन। उ सबइ चिजियन मन्दिर क सेवाकार्य मँ अउर होमबलि चढ़ावइ मँ काम आवति रहिन। उ पचे खोरन अउर दूसर चिजियन क सोना अउ चाँदी स बनाएन। याजकन यहोवा क मन्दिर मँ हर एक दिन क होमबलि तब तलक चढ़ाएन जब तलक यहोयादा जिअत रहा।

15 यहोयादा बूढ़ा भवा। उ बहोत लम्बी उमिर बिताएस तब उ मरा। यहोयादा जब मरा, उ एक सौ तीस बरिस क रहा। 16 लोगन यहोयादा क दाऊद क नगर मँ हुवाँ दफनाएन जहाँ राजा दफनाए जात हीं। लोगन यहोयादा क हुवाँ दफनाएन काहेकि अपनी जिन्नगी मँ उ परमेस्सर अउ परमेस्सर क मन्दिर बरे बहोत अच्छे कार्य किहस।

17 यहोयादा क मरई क पाछे यहूदा क प्रमुख आएन अउर उ पचे राजा योआस क समन्वा निहुरेन। राजा एन प्रमुखन क सुनेस। 18 राजा अउ प्रमुखन उ यहोवा, परमेस्सर क मन्दिर क छोड़ दिहेस जेकर अनुसरण ओनकर पुरखन करत रहेन। उ पचे असेरा स्तम्भ अउर दूसर मूरतियन क पूजा सुरू किहस। परमेस्सर यहूदा अउ यरूसलेम क लोगन पइ कोहाइ गवा काहेकि राजा अउ उ प्रमुखन अपराधी रहेन। 19 परमेस्सर लोगन क लगे नबियन क ओनका यहोवा कइँती लउटाइ क बरे पठएस। नबियन लोगन क चितउनी दिहन। किन्तु लोग सुनइ स इन्कार कइ दिहन।

20 तब परमेस्सर क आतिमा याजक यहोयादा क पूत जकर्याह पइ उतरी। जकर्याह लोगन क समन्वा खड़ा भवा अउर उ कहेस, “जउन यहोवा कहत ह उ इ अहइ: ‘तू लोग यहोवा क आदेस पालन करइ स काहे इन्कार करत अहा? तू कामयाब नाहीं होब्या। तू यहोवा क तजा ह। एह बरे यहोवा भी तोहका छोड़ दिहस ह।’”

21 लेकिन लोग जकर्याह क खिलाफ जोजना बनाएस। राजा जकर्याह क मार डावइ क आदेस दिहस, एह बरे उ पचे ओह पइ तब तलक पाथर मारेन जब तलक उ मर नाहीं गवा। लोगन इ मन्दिर क आँगन मँ किहन। 22 राजा योआस अपने ऊपर यहोयादा क दयालुता क भी याद नाहीं रखेन। यहोयादा जकर्याह क बाप रहा। मुला योआस यहोयादा क पूत जकर्याह क मार डाएस। मरइ क पहिले जकर्याह कहेस, “यहोवा ओह क लखि जउन तू करत अहा अउर तोहका दण्ड देइ।”

23 बरिस क आखीर मँ अराम क फउज योआस क खिलाफ आइ। उ पचे यहूदा अउ यरूसलेम पइ हमला किहन अउर लोगन क सबहिं प्रमुखन क मार डाएन। उ पचे सारी कीमती चिजियन दमिस्क क राजा क लगे पठइ दिहन। 24 अराम क फउज बहोत कम सैनिकन क संग आइ रही किन्तु यहोवा ओका यहूदा क बहोत बड़ी फउज क हरावइ दिहस। यहोवा इ एह बरे किहस कि यहूदा क लोग यहोवा परमेस्सर क तजि दिहन जेकर अनुसरण ओनकर पुरखन करत रहेन। इ तरह योआस क सजा मिली। 25 जब अराम क लोग योआस क छोड़ेन, उ बुरी तरह घायल रहा। योआस क अपने सेवकन ओकरे खिलाफ जोजना बनाएन। उ पचे अइसा एह बरे किहन कि योआस याजक यहोयादा क पूत जकर्याह क मार डाए रहा। सेवकन योआस क ओकरी अपनी चारपाई पइ मार डाएन। योआस क मरइ क पाछे लोग ओका दाऊद क नगर मँ दफनाएन। किन्तु लोग ओका उ जगहिया पइ नाहीं दफनाएन जहाँ राजा दफनाए जात हीं।

26 जउन सेवकन योआस क खिलाफ जोजना बनाएन, उ पचे इ सबइ अहइँ जाबाद अउ यहोजाबाद जाबाद क महतारी क नाउँ सिमात रहा। सिमात अम्मोन क रही। यहोजाबाद क महतारी क नाउँ सिम्रित रहा। सिम्रित मोआब क रही। 27 योआस क पूतन क कथा, ओकर खिलाफ बहोत सारी भविस्सबाणियन अउर उ फुन परमेस्सर क मन्दिर कइसे बनाएस, राजा लोगन क व्याख्या नाउँ क किताबे मँ लिखा अहइ। ओकरे पाछे योआस क पूत अमस्याह नवा राजा भवा।

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes