A A A A A
Bible Book List

गनती 29Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

तुरहियन क त्यौहार

29 “सातवाँ महीना क पहिले दिन एक खास बइठक होइ। तू सबइ उ दिन कउनो काम नाहीं करब्या। उ तुरही बजावइ क दिन अहइ। तू पचे होमबलि चढ़उब्या। इ भेंटन यहोवा बरे सुहावनी सुगन्ध होइ। तू बेदोखे क एक साँड़ एक भेड़ा अउ एक-एक बरिस क सात मेमना चढ़उब्या। तू पचे एपा क तीन दसवाँ हींसा तेल स सना भवा नीक आटा हरेक बर्धा क संग, अउ एपा क दुइ दसवाँ हींसा भेंड़ा क संग चढ़ाउब्या। सात मेमना मँ स हरेक क संग एपा क दसवाँ हींसा आटा क भेंट चढ़उब्या। एकरे अलावा पापबलि बरे एक बोकरा भी चढ़उब्या। इ तोहरे पापे क ढाँपी। इ भेंटन नवा चन्द्रिमा भेंट अउ ओकरे अन्नबलि क अलावा होइ। अउर इ रोज क भेंट, एकर अन्नबलि अउ पयेबलि क अलावा होइहीं। इ नेम क मुताबिक कीन्ह जाइ चाही। एनका आगी बारइ चाही। इ यहोवा क बरे सुहावनी सुगन्ध होइ।

प्रायस्चित क दिन

“सतऍ महीना क दसवाँ दिन एक खास बइठक होइ। उ दिन तू उपवास रखब्या अउर तू कउनो काम नाहीं करब्या। तू होमबलि भेंट करब्या। इ यहोवा बरे सुहावनी गन्ध होइ। तू बे दोखे क एक ठू साँड़ एक ठु भेड़ा अउ एक बरिस क सात मेमना भेंट चढ़उब्या। हर एक बर्धा क संग जइतून क तेले स साना भवा एपा क तीन दसवाँ हींसा आटा, भेड़न क संग एपा क दुइ दसवाँ हींसा आटा। 10 अउ हर एक सातहु मेमना क संग एपा क दसवाँ हींसा आटा क भेंट चढ़उब्या। 11 तू एक बोकरा भी पापबलि क अलावा भेंट करब्या। इ पाप बरे प्रायस्चित क अतिरिक्त होइ। इ रोजाना क बलि, अन्नबलि अउ पयेबलि क अलावा भी होइ।

कुटीर क त्यौहार

12 “सतऍ महीना क पन्द्रहवाँ दिन एक खास बइठक होइ। इ कुटीर क त्यौहार होइ। तू उ दिना कउनो काम नाहीं करब्या। तू यहोवा बरे खास छुट्टी सात दिना तलक मनउब्या। 13 तू होमबलि चढ़उब्या। इ यहोवा बरे सुहावनी सुगन्ध होइ। तू तेरह बर्धा, दुइ भेड़ा अउ एक बरिस क चउदह मेमना चढ़उब्या। 14 तू तेरह बर्धा मँ स हर एक बरे जइतून क तेल क संग साना भवा एपा क तीन दसवाँ हींसा आटा, दुइनउँ भेड़न मँ स हर एक बरे एपा क दुइ दसवाँ हींसा 15 अउ चउदह भेड़न मँ स हर एक बरे एपा क दसवाँ हींसा आटा क भेंट चढ़उब्या। 16 तोहका एक ठु बोकरा भी पाप भेंट क रूप मँ अर्पित करइ चाही। इ रोजाना क भेंट अउ एकर अनाज अउ दाखरस भेंट क अलावा होइ।

17 “इ पवित्तर दिन क दूसरे दिन तोहका बारह बर्धा, दुइ भेड़ा अउ चउदह ऍक बरिस क मेमना चढ़ावइ चाही। इ सबइ बिना दोख क होइ चाही। 18 तोहका साँड़, भेड़ा अउ मेमना क संग गनती क मुताबिक तउले मँ अन्नबलि अउ पयेबलि भी चढ़ावइ चाही। 19 तोहका पापबलि क रूप मँ एक ठु बोकरा क भी भेंट चढ़ावइ चाही। इ रोजाना क भेंट अउ अन्न अउ पयेबलि क अलावा भेंट होइ।

20 “इ पवित्तर दिन क तीसर दिन तोहका बे दोखे क गियारह साँड़, दुइ भेड़ा अउ एक-एक बरिस क मेमना क भेंट चढ़ावइ चाही। 21 तोहका बर्धा, भेड़ा अउ मेमना क ठीक गनती क मुताबिक अन्न अउ पयेबलि चढ़ावइ चाही। 22 तोहका पापबलि क रूप मँ एक बोकरा क भी देइ चाही। इ रोजाना क भेंट अउ अन्नबलि अउ पयेबलि क अलावा भेंट होइ।

23 “इ पवित्तर दिन क चउथा दिन तोहका बे दोखि क दस साँड़, दुइ भेड़ा अउ एक-एक बरिस क चउदह मेमना भेंट चढ़ावइ चाही। इ सबइ बेदोख होइ चाही। 24 तोहका बर्धा, भेड़ा अउ मेमना क ठीक सख्याँ क मुताबिक अन्न अउ पयेबलि चढ़ावइ चाही। 25 तोहका पापबलि क रूप मँ एक बोकरा क भी च़ढ़ावइ चाही। इ रोजाना क भेंट अउ अन्नबलि अउ पेयबलि क अलावा होइ चाही।

26 “इ पवित्तर दिन क पँचए दिन तोहका बेदोख क नौ साँड़, दुइ भेड़ा अउ एक-एक बरिस क चउदह मेमना भेंट चढ़ावइ चाही। इ सबइ बेदोख होइ चाही। 27 तोहका बर्धा, भेड़ा अउ मेमना क ठीक संख्याँ क मुताबिक अन्न अउ पयेबलि चढ़ावइ चाही। 28 तोहका पापबलि क रूप मँ एक बोकरा क भी भेंट चढ़ावइ चाही। इ रोजाना क भेंट अउ अन्नबलि अउ पेयबलि क अलावा होइ चाही।

29 “इ पवित्तर दिन क छठऍ दिन तोहका बे दोखे क चउदह साँड़, दुइ भेड़ा अउ एक-एक बरिस क चउदह मेमना क भेंट चढ़ावइ चाही। 30 तोहका बर्धा, भेड़ा अउ मेमना क संग जेतँना होइ चाही उ मात्रा मँ अन्न अउ पयेबलि चढ़ावइ चाही। 31 तोहका पापबलि क रूप मँ एक बोकराँ क भी भेंट देइ चाही। इ रोजाना क भेंट अउ अन्नबलि अउर पयेबलि क अलावा भेंट होइ।

32 “इ पवित्तर दिन क सतऍ दिन तोहका बेदोख क सात साँड़, दुइ भेड़ा, अउ एक-एक बरिस क चउदह मेमना क भेंट चढ़ावइ चाही। 33 तोहका बर्धा, भेड़ा अउ मेमना क संग गनी भइ गनती मँ अन्न अउ पयेबलि चढ़ावइ चाही। 34 तोहका पापबलि क रूप मँ एक बोकरा क भी भेंट देइ चाही। इ रोजाना क भेंट अउ अन्नबलि तथा पयेबलि क अलावा भेंट होइ।

35 “इ पवित्तर दिन क अठवाँ दिन तोहका एक समापन बइठक करइ चाहीं। तोहका उ दिन कउनो काम नाहीं करइ चाही। 36 तू होमबलि अउ आगी क भेंट चढ़ावा। इ यहोवा बरे सुहावनी सुगंध होइ। तोहका बेदोखे क एक साँड़, एक भेड़ा अउ एक एक बरिस क सात मेमना भेंट मँ चढ़ावइ चाही। 37 तोहका साँड़, भेड़ा अउ भेड़ी क बच्चा बरे गनी भइ मात्रा मँ अन्न अउ पयेबलि देइ चाही। 38 तोहका पापबलि क रूप मँ एक बोकरा क भी भेंट देइ चाही। इ रोजाना क भेंट अउ अन्नबलि अउ पयेबलि क अलावा भेंट होइ चाही।

39 “उ सबइ तोहार खास दिन यहोवा क सम्मान बरे अहइ। तोहकाएपा क दसवाँ हींसाओन बचन भेंट, आपन स्वेच्छा भेंट, होमबलि, अन्नबलि, पयेबलि अउ मेलबलि क अलावा इ पत्तिर दिनन म मानइ चाहीं।”

40 मूसा इस्राएल क लोगन स ओन सबहिं बातन क कहेस जउन यहोवा ओका हुकुम दिहे रहा।

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes