A A A A A
Bible Book List

गनती 27Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

सलोफाद क बिटियन

27 सलोफाद हेपेर क पूत रहा। हेपेर गिलाद क पूत रहा। गिलाद माकीर क पूत रहा। माकीर मनस्से यूसुफ क पूत रहा। सलोफाद क पाँच बिटियन रहिन। ओनकइ नाउँ महला, नोवा, होग्ला, मिल्का अउ तिर्सा रहा। इ पाँचउ मेहररुअन मिलापवाला तम्बू मँ गइन अउ मूसा याजक एलीआज़ार, नेता लोग अउ एक संग बटुरे मनइयन ओनका लखेन।

पाँचउ बिटियन कहेन, “हमार बाप उ सबइ मरि गएन जब हम पचे रेगिस्तान मँ जात्रा करत रहिन। ओकर मउत ओकर पाप बरे भइ। उ ओन मनइयन मँ नाहीं रहा जउन कोरह क दल मँ मिलि गवा। (कोरह उहइ रहा जउन यहोवा क खिलाफ होइ गवा रहा।) हमरे बाप क कउनो बेटवा नाहीं रहा। ऍकर इ अरथ भवा कि हमरे बाप क नाउँ न चली। इ ठीक नाहीं कि हमरे पिता क नाउँ नाहीं चलइ। ओकर नाउँ मेट जाइ काहे की ओकरे कउनो पूत नाहीं अहइ। एह बरे हम पचे माँग करित ह कि हमका कछू भुइयाँ उ भूइँया क अलवा दीन्ह जाइ जेका हमरे पिता क भाई लोग उत्तराधिकार क रूप मँ पइहीं।”

एह बरे मूसा यहोवा स पूछेस कि उ का करइ। यहोवा ओसे कहेस, “सलोफाद क बिटियन फुरे कहत हीं। तोहका ओनके चाचा क संग संग ओनका भी धरती क हींसा देइ चाही, जउन तू ओनके बाप क देत्या।

“एह बरे इस्राएल क मनइयन बरे ऍका कनून बनइ द्या: ‘जदि कउनो मनई क पूत न होइ अउर उ मरि जात ह तउ हर एक चीज ओकर बाटइ ओकरे बिटिया क होइ। जदि ओका कउनो बिटिया न होइ तउ जउन कछू भी होइ ओकरे भइयन क दीन्ह जाइ। 10 जदि ओकर कउनो भाई न होइ तउ जउन कछू ओकर होइ ओकरे पिता क भाइयन क दीन्ह जाइ। 11 अगर ओकरे बाप क कउनो भाई न होइ तउ जउन कछू ओकर होइ ओकरे परिवार क सबन न निचेक क नातेदाद क दीन्ह जाइ। इस्राएल क लोगन मँ इ कनून होइ चाही। यहोवा मूसा क इ हुकुम देत ह।’”

यहोसू नवा नेता अहइ

12 तब यहोवा मूसा स कहेस, “उ पहाड़न क कतारन मँ एक क ऊपर चढ़ा जउन यरदन नदी क पूरब रेगिस्ताने मँ बा। तु उ धरती क निहरब्या जेका मइँ इस्राएल क मनइयन क देत अही। 13 जब तू इ पहँटा क लखि लेब्या तब तू आपन भाई हारून क तरह मरि जाब्या। 14 उ बात क सुमिरा जब लोग सीन क रेगिस्तान मँ पानी बरे कोहान रहेन। तू अउ हारून दुइनउँ मोर हुकुमबदूली किहा ह। तू पचे मोर मान नाहीं किहा अउ मनइयन क अगवा पवित्तर नाहीं बनाया रहा।” (इ पानी जिन क रेगिस्तान मँ कादेस क भीतर मरीबा मँ रहा।)

15 मूसा यहोवा स कहेस, 16 “यहोवा परमेस्सर अहइ। उहइ जानत ह कि लोग का सोचत अहइँ। यहोवा मोर बिनती अहइ कि तू इ मनइयन बरे एक नेता चुना। 17 मइँ बिनती करत हउँ कि यहोवा एक अइसा नेता चुनी जउन ओनका इ प्रदेस स बाहेर लइ जाइ अउर ओनका नवा पहँटा मँ पहोंचाई। तब यहोवा क लोग बे गड़रिया क भेड़ी क नाई न होइहीं।”

18 एह बरे यहोवा मूसा स कहेस, “नून क पूत यहोसू नेता होइ। यहोसू बहोत बुद्धिमान अहइ। ओवा नवा नेता बनावा। 19 ओसे याजक एलीआज़ार अउ पूरा धामिर्क मण्डली क समन्वा खड़ा होइ क कहा। तब ओका सबहिं लोगन क समन्वा नवा नेता बनावा।

20 “मनइयन क इ देखॉवा कि तू ओका नेता बनावत अहा, तब सबहिं ओकर हुकुम मनिहीं। 21 जदि यहोसू कउनो खास निर्णम लेइ चाही तउ ओका याजक एलीआज़ार क लगे जाइ क होइ। एलीआज़ार उरिम क प्रयोग यहोवा क जवाब जानइ बरे करी। तब यहोसू अउ इस्राएल क सब लोग उ करिहीं जउन परमेस्सर कइहीं। जदि परमेस्सर कहत ह ‘बाहर जा।’ तब उ पचे ओनका बाहर लइ जाइ, अउर अगर उ कहत ह, ‘घरे प अराम करा।’ तउ उ पचे घर मँ आराम करिहीं।”

22 मूसा यहोवा क आग्या मानेस। मूसा यहोसू याजक एलीआज़ार अउ इस्राएल क सब लोगन क समन्वा खड़ा होइके कहेस। 23 तब मूसा आपन हाथे क ओकरे मूँड़े प देखॉवइ बरे धरेस कि उ नवा नेता अहइ। उ वइसे ही किहेस जइसा यहोवा कहे रहा।

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes