A A A A A
Bible Book List

उत्पत्ति 11Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

संसार बँटि गवा

11 बाढ़ क पाछे संसार एक ही भाखा बोलत रहा। सब लोग एक ही सब्द-भण्डार बइपरत रहेन। लोग पूरब कइँती स बढ़ेन। ओनका सिनार देस मँ एक मइदान मिला। लोग हुवाँ बसइ गएन। लोग कहेन, “हम पचन क ईंटा बनउब अउ ओका पजावा मँ तपावइ चाही, ताकि उ सबइ पककी होइ जाइँ।” ऍह बरे मनइयन आपन घर बनावइ बरे पाथरन क जगह ईंटा क बइपरेन। अउ मनइयन चूना क गारा क जगह राल क प्रयोग किहेन।

लोग कहेन, “हम पचे आपन खातिर एक ठु सहर बनाई अउ हम सबइ एक बहोत ऊँच इमारत बनाउब जउन अकासे क छुइ। हम पचे नामी होइ जाब। अगर हम पचे अइसा करब तउ पूरी धरती प बिखरेब नाही। हम पचे एक ही ठउर प एक संग रहब।”

यहोवा सहर अउ बहोत ऊँच इमारत क लखइ बरे तरखाले आवा। यहोवा मनइयन क इ सब बनावत लखेस। यहोवा कहेस, “इ सबइ लोग एक भाखा बोलत ही अउर मइँ निहारत हउँ कि उ पचे इ काम खतम करइ बरे एकउटा अहइँ, इ तउ, इ सबइ जउन कछू सकत ही ओकर, सिरिफ सुरुआत अंहइ। हाली ही उ पचे सब कछू करइ जोग्ग होइ जइहीं जउन इ पचे करइ चइही। ऍह बरे आवा हम तरखाले चली अउ एनकइ भाखा क गड्डमड्ड कइ देइ। तब उ पचे एक दूसर क बात न बूझि पइही।”

यहोवा मनइयन क समूचइ धरती प फइलाइ दिहस। ऍहसे मनइयन सहर क बनाउब पूरा नाही किहन। इहइ उ ठउर रहा जहाँ यहोवा समूचइ संसार क भाखा क गड्डमड्ड कइ दिहस। ऍह बरे इ ठउर क नाउँ बाबुल धरा गवा। इ तरह यहोवा उ जगहिया स मनइयन क पृथ्वी क सब देसन मँ फइलाएस।

सेम क परिवार क कहानी

10 इ सेम क परिवारे क कहानी बाटइ। बाढ़ क दुइ बरिस पाछे जब सेम सौ बरिस क रहा ओकर पूत अर्पखद क जनम भवा। 11 ओकरे पाछे सेम पाँच सौ बरिस जिअत रहा। ओकरे दूसर पूत अउ बिटियन रही।

12 जब अर्पखद पैंतीस बरिस क रहा ओकर पूत सेलह क जनम भवा। 13 सेलह क पइदा होइ क पाछे अर्पखद चार सौ तीन बरिस जिअत रहा। इ दिन ओकर दूसर पूतन अउ बिटियन पइदा भइन।

14 सेलह क तीस बरिस होइ क पाछे ओकर पूत एबरे क जन्म भवा। 15 एबेर क जन्म क पाछे सेलह चार सौ तीन बरिस जिअत रहा। इ दिनन मँ ओकरे पूतन अउ बिटियन पइदा भएन।

16 एबेर क चौंतीस बरिस क होइ क पाछे ओकरे पूत पेलेग क जन्म भवा। 17 पेलेग क जन्म क पाछे एबेर चार सौ तीस बरिस अउर जिअत रहा। इ दिनन मँ ओकरे दूसर पूतन अउ बिटियन पइदा भइन।

18 जब पेलेग तीस बरिस क भवा, ओकर पूत “रु” क जन्म भवा। 19 “रु” क जन्म क पाछे पेलेग दुइ सौ नौ बरिस अउर जिअत रहा। उ दिनन मँ ओकरे दूसर बिटियन अउ बेटवन क जन्म भवा।

20 जब रु बत्तीस बरिस क भवा, ओकरे पूत सरुग क जन्म भवा। 21 सरुग क जन्मे क पाछे रु दुइ सौ सात बरिस अउर जिअत रहा। इ दिनन ओकरे दूसर बेटवन अउ बिटियन पइदा भएन।

22 जब सरुग तीस बरिस क भवा, ओकरे पूत नाहोर क जन्म भवा। 23 नाहोर क जन्म क पाछे सरुग दुइ सौ बरिस अउर जिअत रहा। इ दिनन मँ ओकरे दूसर पूतन अउ बिटियन क जन्म भवा।

24 जब नाहोर उनतीस बरिस क भवा, ओकर पूत तेरह क जन्म भवा। 25 तेरह क जन्म क पाछे नाहोर एक सौ उन्नीस बरिस अउर जिअत रहा। इ दिनन मँ ओकरे दूसर बिटियन अउ बेटवन क जन्म भवा।

26 तेरह जब सत्तर बरिस क भवा, ओकरे पूत अब्राम, नाहोर अउ हारान क जन्म भवा।

तेरह क परिवार क कहानी

27 इ तेरह क परिवार क कहानी अहइ। तेरह अब्राम, नाहोर अउ हारान क बाप रहा। हारान लूत क बाप रहा। 28 हारान आपन जन्मभूमि कसदियन क उर सहर मँ मरा। जब हारान मरा तब ओकर पिता तेरह जिअत रहा। 29 अब्राम अउ नाहोर दुइनउँ आपन आपन बियाह किहन। अब्राम क मेहरारु सारै रही। नाहोर क मेहरारु मिल्का रही। मिल्का हारान क बिटिया रही। हारान मिल्का अउ यिस्का क बाप रहा। 30 सारै क कउनो बच्चा नाही रहा काहेकि उ कउनो बच्चा क जन्म देइ जोग्ग नाही रही।

31 तेरह आपन परिवार क संग लिहेस अउ कसदियन क उर सहर क तजि दिहस। उ पचे कनान क जात्रा करइ क मन मँ ठान लिहन। तेरह आपन पूत अब्राम, आपन पोता लूत (हारान क पूत), आपन पतोहू (अब्राम क मेहरारु) सारै क संग लिहस। उ पचे हारान तलक जात्रा किहन अउ हुआँ ठहराउब तय किहन। 32 तेरह दुइ सौ पाँच बरिस जिअत रहा। तब उ हारान मँ मरि गवा।

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes