A A A A A
Bible Book List

2 समूएल 13Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

अम्नोन अउ तामार

13 दाऊद क अबसालोम नाउँ क एक पूत रहा। अबसालोम क बहिन क नाउँ तामार रहा। तामार बहोत सुन्नर रही। अम्नोन दाऊद क दूसर पूत रहा जउन तामार स पिरेम करत रहा। तामार कुँवारी रही। अम्नोन सोचेस कि उ ओकरे संग कभी आपन यौन इच्छा पूरा नाहीं कइ सकत्या। किन्तु अम्नोन ओका बहोत चाहत रहा। अम्नोन ओकरे बारे मँ बहोत सोचइ लगा उ बीमार होइ क एक बहना बनाएस।

अम्नोन क एक ठु मीत सिमा क पूत योनादाब रहा। (सिमा दाऊद क भाई रहा।) योनादाब बहोत चालाक आदमी रहा। योनादाब अम्नोन स कहेस, “हर दिन तू दूबर दूबर स देखाँई पड़त अहा। तू राजा क पूत अहा। तोहका खाइ बरे बहोत जियादा अहइ, तउ भी तू आपन वजन काहे खोवत जात अहा? मोका बतावा।”

अम्नोन योनादाब स कहेस, “मइँ तामार स पिरेम करत हउँ। किन्तु उ मोर सौतेला भाई अबसालोम क बहिन अहइ।”

योनादाब अम्नोन स कहेस, “बिछउना मँ ओलरा। अइसा बेउहार करा कि तू बीमार अहा। तब तोहार बाप तोहका लखइ अइहीं। ओनसे कहया, ‘मेहरबानी कइके मोर बहिन तामार क आवइ द्या अउर मोका खाना देइ द्या। ओका मोरे समन्वा भोजन बनाइ देइँ। तब मइँ ओका लखब अउर ओकरे हाथे स खाब।’”

एह बरे अम्नोन बिछउना मँ ओलर गवा, अउर अइसा बेउहार किहस माना उ बीमार अहइ। राजा दाऊद अम्नोन क लखइ आवा। अम्नोन राजा दाऊद स कहेस, “कृपा कइके मोर बहिन तामार क हिआँ आवइ देइँ। मोरे लखत भए ओका मोरे बरे दुइ रोटी बनावइ देइँ। तब मइँ ओकरे हाथन स खाइ सकत हउँ।”

दाऊद तामार क घरे सँदेसवाहकन क पठएस। सँदेसवाहकन तामार स कहेन, “अपने भाई अम्नोन क घरे जा अउर ओकरे बरे कछू भोजन बनावा।”

तामार अम्नोन बरे भोजन बनावत ह

एह बरे तामार अपने भाई अम्नोन क घरे गइ। अम्नोन बिछउना मँ रही। तामार कछू गूँधा आटा लिहस अउर एका अपने हाथन स एक साथे दबाएस। उ अम्नोन क लखत भए कछू रोटियन बनाएस। जब तामार रोटियन क पकाउब पूरा किहेस तउ उ कढ़ाही मँ स रोटियन क अम्नोन बरे निकारेस। किन्तु अम्नोन खाइ स इन्कार किहस। अम्नोन अपने सेवकन स कहेस, “तू सबहिं मनई चला जा। मोका अकेला रहइ द्‌या!” एह बरे सबहिं सेवक अम्नोन क कमरा स बाहेर चले गएन।

अम्नोन तामार क संग कुकर्म करत ह

10 अम्नोन तमार स कहेस, “भोजन भीतरवाले कमरा मँ लइ चला। तब मइँ तोहरे हाथ स खाब।”

तामार अपने भाई क लगे सयन-कच्छ मँ गइ। उ ओन रोटियन क लिआइ जउन उ बनाए रही। 11 उ अम्नोन क लगे गइ जेहसे उ ओकरे हाथन स खाइ सकइ। किन्तु अम्नोन तामार क धइ लिहस। उ ओहसे कहेस, “बहन, आवा अउर मोरे संग सोवा।”

12 तामार अम्नोन स कहेस, “नाहीं, भाई। मोका मजबूर जिन करा। इ भयंकर काम इस्राएल मँ कबहुँ नाहीं कीन्ह जाइ चाही। इ लज्जाजनक काम जिन करा। 13 मइँ इ लज्जा स कबहुँ मुक्त नाहीं होब्या अउर लोग इ सोचिही कि तू एक आम अपराधी अहा। कृपा कइके राजा स बात करा। उ तोहका मोर संग बियाह करइ देइ।”

14 किन्तु अम्नोन तामार क एक न सुनेस। उ तामार स जियादा सक्तीसाली रहा। उ ओहका सारीरिक सम्बन्ध करइ बरे मजबूर किहस। 15 ओकरे बाद अम्नोन तामार स घिना करइ लाग। अम्नोन ओकरे संग ओहसे भी जियादा घिना किहेस जेतना उ पहिले पिरेम करत रहा। अम्नोन तामार स कहेस, “उठा अउर चली जा!”

16 तामार अम्नोन स कहेस, “नाहीं! मोका बाहेर जिन पठावा! मोका अब बाहेर पठाना उ स जियादा गलत होइ जउन तू पहिले मोर संग कइ लीन्ह ह।”

किन्तु अम्नोन तामार क एक न सुनेस। 17 अम्नोन आपन जवान सेवक स कहेस, “इ लड़की क इ कमरा स अबहिं बाहेर निकारा। ओकरे जाइ पइ दरवाजे मँ ताला लगाइ द्या।”

18 एह बरे अम्नोन क सेवक तामार क कमरे क बाहेर लइ गवा अउर ओकरे जाइ पइ ताला लगाइ दिहस।

तामार कइउ रंग क लम्बा लबादा पहिर रखे रहा। राजा क कुवाँरी बिटियन अइसा ही लबादा पहिरत रहिन।

19 तामार राख लिहस अउर अपने मूँड़े पइ डाइ लिहस। उ अपने बहुरंगे लबादे क फार डाएस। उ आपन हाथ अपने मूँड़े पइ रख लिहस अउर उ जोर स रोवइ के चलत लागेन।

20 तामार क भाई अबसालोम तामार स कहेस, “का तोहार भाई अम्नोन तोहका मारेस? अम्नोन तोहार भाई अहइ। बहन, अब सान्त रहा। एहसे तू बहोत परेसान न ह्वा।” एह बरे तामार कछू नाहीं कहेस। उ अबसालोम क घरे रहइ चली गइ अउर हुवाँ अकेली अउ उदास रहइ लाग।

21 राजा दाऊद क एकर खबर मिली। उ बहोत कोहाइ गवा। 22 अबसालोम अम्नोन स घिना करत रहा। अबसालोम अच्छा या बुरा अम्नोन स कछू नाहीं कहेस। उ अम्नोन स घिना करत रहा काहेकि अम्नोन ओकरी बहन क संग कुकर्म किहे रहा।

अबसालोम क बदला

23 दुइ बरिस पाछे कछू मनई एप्रैम क लगे बाल्हासोर मँ अबसालोम क भेड़िन क ऊन काटइ आएन। अबसालोम राजा क सबहिं पूतन क आवइ अउ लखइ बरे न्यौतेस। 24 अबसालोम राजा क लगे गवा अउर उ कहेस, “मोरे लगे कछू मनई मेरी भेड़िन क ऊँट काटइ आवत अहइँ। कृपा कइके आपन सेवकन क संग आवइँ अउर लखइँ।”

25 राजा दाऊद अबसालोम स कहेस, “पूत नाहीं। हम सबहिं नाहीं जाब। एहसे तोहका परेसानी होइ।”

अबसालोम दाऊद स चलइ क पराथना किहस। दाऊद नाहीं गवा, किन्तु उ आसीर्बाद दिहस।

26 अबसालोम कहेस, “जदि आप जाइ नाहीं चाहतेन तउ, कृपा कइके मोरे भाई अम्नोन क मोर संग जाइ देइँ।”

राजा दाऊद अबसालोम स पूछेस, “उ तोहरे संग काहे जाइ?”

27 अबसालोम दाऊद स पराथना करत रहा। आखिर मँ दाऊद अम्नोन अउ सबहिं राजपूतन क अबसालोम क साथ जाइ दिहस।

अम्नोन क हत्या कीन्ह गइ

28 तब अबसालोम आपन सेवकन क आदेस दिहस। उ ओनसे कहेस, “अम्नोन पइ नजर राखा। जब उ नसे मँ धुत होइ तब मइँ तोहका आदेस देब अम्नोन क जान स मार डावा। सज़ा पावइ स डेराअ नाहीं। काहेकि तू सिरिफ मोर हुकूम क पालन करत रहा। अब सक्तीसाली अउ बीर बना।”

29 अबसालोम क जुवक लोग अबसालोम क आदेस क मुताबिक अम्नोन क मार डाएन। किन्तु दाऊद क दूसर पूत बच निकरेन। हर एक पूत अपने एक खच्चरे पइ बइठा अउर भाग गवा।

दाऊद अम्नोन क पूत क खबर पावत ह

30 जब राजा क पूत मारग मँ रहेन, दाऊद क खबर मिली। खबर इ रही, “अबसालोम राजा क सबहिं पूतन क मार डाएस ह। कउनो भी पूत बचा नाहीं ह।”

31 राजा दाऊद आपन ओढ़ना फार डाएस अउर धरती पइ ओलर गवा। दाऊद क लगे खड़े ओकर सबहिं अधिकारियन भी आपन ओढ़नन फार डाएन।

32 किन्तु योनादाब, दाऊद क भाई क पूत सिमा दाऊद स कहेस, “अइसा मत सोचा कि राजा क सबहिं जुवक पूत मार डावा गएन ह। नाहीं, इ सिरिफ अम्नोन अहइ जउन मारा गवा ह। जब स अम्नोन ओकर बहिन तामार क संग कुकरम किहे रहा तबहिं स अबसालोम इ जोजना बनाए रहा। 33 मोर सुआमी राजा इ न सोचइँ कि सबहिं राजपूत मार गएन ह। सिरिफ अम्नोन ही मारा गवा।”

34 अबसालोम पराइ गवा।

एक ठु रच्छक नगर क देवार पइ खड़ा रहा। उ पहाड़ी क दूसर कइँती स कई मनइयन क आवत लखेस। 35 एह बरे योनादाब दाऊद स कहेस, “लखा, मइँ बिल्कुल सही रहेउँ। राजा क पूत आवत अहइँ।”

36 जइसे ही बातन करइ खत्म किहेन राजपूतन आइ गएन। उ पचे जोर-जोर स रोवत रहेन। दाऊद अउर ओकर सबहिं अधिकारियन रोवइ लागेन। उ पचे सबहिं बहोत बिलाप करत रहेन। 37 दाऊद आपन पूत बरे बहोत दिनन तलक रोएस।

अबसालोम गसूर क पराइ गवा

अबसालोम गसूर क राजा अम्मीहूर क पूत तल्मै क लगे पराइ गवा। 38 अबसालोम क गसूर भाग जाइ क बाद, उ हुवाँ तीन बरिस तलक ठउरा। 39 अम्नोन क मउत क पाछे, दाऊद धैर्य बांध लिहेस। लेकिन उ अबसालोन क खोइ दिहेस अउर ओका ओका देखइ क लालसा रहा।

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes