A A A A A
Bible Book List

व्यवस्था विवरण 11Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

यहोवा क सुमिरा

11 “एह बरे तू पचन्क आपन परमेस्सर यहोवा स पिआर करइ चाही। तू पचन्क उहइ करइ चाही जउन उ करइ बरे तू सबन्स कहत ह। तू पचन्क ओकरे नेमन, हुकुमन अउ आदेसन क हमेसा ही मानइ चाही। याद रखा सिरिफ तोहार गदेलन उ एक नाहीं अहइ जेका उ लख्या ह अउर जउन यहोवा तोहार परमेस्सर बरे महान काम करइ मँ तजुरबा राखत अहइ। उ सबइ तू लोग रह्या तोहरे सबन्क जउन उ लखेन अउर तू पचे लख्या ह कि यहोवा केतॅना महान, मज़बूत अउ केतॅना सक्तीसाली अहइ। तू पचे ओकरे चमत्कारन क लख्या ह। तू पचे उ सबइ लख्या ह जउन उ मिस्र क राजा फिरौन अउ ओकरे पूरे देस क संग किहस। तू पचे मिस्र क फउज, ओनकइ घोड़न अउ रथन क संग यहोवा जउन किहस, लख्या ह। उ सबइ तू सबन्क पाछा करत रहेन, मुला तू पचे लख्या ह, यहोवा ओनका लालसागरे क जले मँ बोर दिहस। तू पचे लख्या ह कि यहोवा ओनका पूरी तरह बरबाद कइ दिहस। तू पचे उ सबइ चिजियन क लख्या ह जउन यहोवा तोहार परमेस्सर उ रेगिस्तान मँ तू पचन्क इ जगह मँ आवइ तलक किहेस ह। तू पचे लख्या ह कि यहोवा रूबेन क परिवार क एलिआब क दूइ पूतन दातान अउ अबीराम क संग का किहेस। इस्राएल क सबहिं मनइयन लख्या ह कि भुइँया मुँहे क नाई खुलत भवा ह अउ ओन मनइयन, ओनके परिवारे, खेमन, सबहिं नउकरन अउ ओनकर सबहिं जनावरन क निगल लिहस। तू पचे यहोवा क जरिये कीन्ह गएन महान कारनामा क लख्या ह।

“एह बरे आजु जउन आदेस मइँ देत अहउँ, तू पचन क ओन सबन क जरूर मानइ चाही। तबहिं तू पचे सक्तीसाली बनब्या। अउर तू पचे नदी क पार करइ लायक बनब्या अउर उ देस पइ कब्जा करब्या जेहमाँ प्रवेस करइ बरे तू पचे तइयार अहा। उ देस मँ तोहार उमिर लम्बी होई। इ उहइ देस अहइ जेका यहोवा तोहरे पुरखन स ओनके अउ ओनके सन्तानन क देइ क बचन दिहे रहा। इ देस मँ दूध अउर सहद बहत ह। 10 जउने देस क तू पचे पउब्या उ मिस्र क नाई नाहीं अहइ जहाँ से तू पचे आया ह। मिस्र मँ तू पचे बिआ बोअत रह्या अउर पौधन क गोड़न क जरिये नहर स पानी निकाल कइ सबजियन क बगियन क नाईं सींचत रहा। 11 मुला जउन पहँटा तू पचे हाली ही पउब्या उ मँ पहाड़न अउ घाटियन अहइँ। इ भुइँया बरखा स पानी अकासे स पावत ह। 12 यहोवा तोहार परमेस्सर उ देस क देख-भला करत ह। यहोवा तोहार परमेस्सर बरिस क सुरू स आखिर तलक ओकर देख-भाल लगातार करत रहत ह।

13 “‘तू पचन्क जउन आदेसन मइँ आजु देत अहउँ, ओका तोहका होसियारी स जरूर सुनइ चाही। तू पचन क यहोवा तोहार परमेस्सर स पिरेम अउ ओकर सेवा पूरा हिरदय अउ आतिमा स जरूर करइ चाही। अगर तू पचे अइसेन करब्या, 14 तउ मइँ ठीक समइ पइ तोहरी भुइँया बरे बरखा पठउब। मइँ पतझर अउ बसन्त क समइ क भी बरखा दुआरा तोहका आसीर्बाद देब। तू पचे आपन अन्न, नवा दाखरस अउ तेल बटोरब्या। 15 अउर मइँ तोहरे खेतन मँ तोहरे पचन्क गोरुअन बरे घास जमाउब। तोहरे पचन्क भोजन बरे बहोत जिआदा होइ।’

16 “‘मुला होसियार रहा कि ललचाया नाहीं जा। दूसर देवतन क पूजा अउ सेवा करइ बरे जिन घूमा।’ 17 अगर तू पचे अइसा करब्या तउ यहोवा तू पचन पइ बहोतइ कोहाइ जाइ। उ अकासे क बन्द कइ देइ अउ बरखा नाहीं होइ। भुइँया स फसल नाहीं जमी अउर तू पचे उ नीक देस मँ हाली ही मरि जाब्या जेका यहोवा तू पचन्क देत अहइ।

18 “इ सब्दन क आपन दिमाग अउर हिरदइ मँ रखा। ऍका आपन कमर अउ कपाल पइ यादगार क रूप मँ रखा। 19 ऍन नेमन क सिच्छा आपन गदेलन क द्या। ऍनके बारे मँ जउन तू आपन घरे मँ बइठा, जउन तू सड़किया पइ टहरत रहा, जउन तू लोटत रहा अउ जउन जागत भए रहा, बतावा करा। 20 ऍन आदेसन क आपन घरे क दुआरे क चौखट अउ फाटकन पइ लिखा। 21 तबहिं तू पचे अउ तोहार गदेलन उ देस मँ लम्बे समइ तलक रइहीं। इ उहइ भुइँया अहइ जेका यहोवा तोहरे पुरखन क देइ क बचन दिहे रहा। तू पचे तब तलक रहब्या जब तलक धरती क ऊपर अकास रही।

22 “होसियार रहा कि तू पचे उ हर एक आदेस क मानत रहा जेका मानइ बरे मइँ तू पचन्स कहेउँ ह। आपन परमेस्सर यहोवा स पिरेम करा। ओकर बताए भए सबहिं राहे प चला। ओहसे लगा रहा। 23 यहोवा ओन सबहिं रास्ट्रन क ताकत लगाइके बाहर करब। तू पचे ओन रास्ट्रन स भुइँया लेब्या जउन तोहसे पचन्स लम्बा अउ मजबूत अहइँ। 24 उ सारा प्रदेस जेह पइ तू पचे चलब्या, उ तोहार होइ। तोहार देस दक्खिन मँ रेगिस्ताने स लइके लगातार उत्तर मँ लबानोन तलक होइ। इ पूरब मँ फरात नदी स लइके पस्चिमी सागर तलक होइ। 25 कउनो मनई तोहरे पचन्क खिलाफ ठाड़ न होइ। यहोवा तोहार परमेस्सर ओन लोगन्क तू पचन्स डेरवाइ देइ जहाँ कहूँ तू पचे उ देस मँ जाब्या। इ उहइ जेकरे बरे यहोवा पहिले तोहका पचन्क बचन दिहे रहा।

इस्राएलियन बरे चुनाव: आसीर्बाद या अभिसाप

26 “आजु मइँ तू पचन्क आसीर्बाद या अभिसाप मँ स एक क चुनइ क बचन देत अहउँ। 27 तू सबइ बरदान पउब्या, अगर तू पचे यहोवा आपन परमेस्सर क आदेसन क पालन करब्या। मइँ आजु इ आदेसन क तोहका देत अहउँ। 28 मुला तू पचे ओह समइ अभिसाप पउब्या जब तू पचे यहोवा आपन परमेस्सर क आदेसन क मानइ स इन्कार करब्या। ऍह बरे जउने राहे पइ चलइ क आदेस मइँ आजु तू पचन्क दइ देत अहउँ, ओहसे घूमब्या अउ ओन दूसर देवतन क पाछा करब्या जेनका तू पचे जानत्या नाहीं।

29 “जब यहोवा तोहार परमेस्सर तू पचन्क उ देस मँ लावत ह जहाँ तू पचे रहब्या, तब तू पचन्क गरीज्जीम पहाड़े क चोटी पइ जाइ चाही अउ हुआँ स आसीर्बादन क लोगन क सुनावइ चाही। तब तू पचन्क एबाल पहाड़े क चोटी पइ भी जाइ चाही अउ हुआँ स अभिसापन क लोगन क सुनावइ चाही। 30 इ सबइ यरदन नदी क दूसर कइँती कनानी लोगन्क प्रदेस मँ अहइँ जउन यरदन घाटी मँ रहत हीं। इ सबइ पहाड़ गिलगाल सहर क निचके मोरे क बांज क बृच्छन क निअरे पच्छिम कइँती अहइँ। 31 तू पचे यरदन नदी क पार कइके जाब्या। तू पचे उ पहँटा क लेब्या जेका यहोवा तोहार परमेस्सर तू पचन्क दइ देत अहइ। इ देस तोहार होइ। जब तू पचे इ देस मँ रहइ लगब्या तउ 32 तोहका ओन सबहिं हुकुमन अउ नेमन क मानब होसियारी स करी चाही जेनका आजु मइँ तू पचन्क दइ देत अहउँ।

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes