A A A A A
Bible Book List

यहोसू 22Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

तीन परिवार समूह घरे लउटत हीं

22 तब यहोसू रूबेन, गाद क परिवार समूह अउ मनस्से क आधा परिवार समूह क सबहिं लोगन क एक सभा किहस। यहोसू ओनसे कहेस, “तू पचे यहोवा क सेवक मूसा क दीन्ह गए सबहिं हुकुमन क मान्या ह। अउर तू पचे मोरे सबाहिं हुकुमन क भी मन्या ह। अउर इ पूरा समइ मँ तू लोग इस्राएल क दूसर लोगन क मदद किह्या ह। तू लोग यहोवा क ओन सबहिं हुकुमन क बहोत ही होसियार स मानइ रह्या, जेनका तोहार परमेस्सर यहोवा तू पचन्क दिहे रहा। तोहार परमेस्सर यहोवा इस्राएल क लोगन क सान्ति देइ क वचन दिहे रहा। ऍह बरे अब यहोवा आपन वचन पूरा कइ लिहस ह। इ समइ तू लोग आपन घरे लउटि सकत ह। तू लोग, आपन उ प्रदेस मँ जाइ सकत ह जउन तू पचन्क दीन्ह ग अहइ। इ प्रदेस यरदन नदी क पूरब मँ अहइ। इ उहइ प्रदेस अहइ जेका यहोवा क सेवक मूसा तू पचन्क दिहे रहा। मुला याद राखा कि जउन व्यवस्था मूसा तू पचन्क दिहे अहइ, ओनका माना जात रहइ। तू पचन्क आपन परमेस्सर यहोवा स पिरेम करब अउ ओकरे हुकुमन क मानइ क अहइ। तू पचन्क ओनके पाछे चलइ चाही, अउर पूरी आस्था क साथ ओनकर सेवा करा।”

तब यहोसू ओनका आसीर्बाद दिहस अउर उ पचे बिदाइ लिहन। उ पचे आपन घरे लउटि गएन। मूसा आधा मनस्से परिवार समूह क बासान प्रदेस दिहे रहा। यहोसू दूसर आधा मनस्से परिवार समूह क यरदन नदी क पच्छिम मँ प्रदेस दिहस। यहोसू ओनका आपन घरे पठएसा यहोसू ओनका आसीर्बाद दिहस। उ कहेस, “तू पचे बहोत सम्पन्न अहा। तोहरे पचन्क लगे चाँदी, सोना अउर दूसर बहुमूल्य जेवरन क संग बहोत स जनावर अहइँ। तू लोगन क लगे अनेक सुन्नर वस्त्र अहइँ। तू पचे आपन दुस्मनन स बहोत स चिजियन लिह्या ह। ऍन चिजियन क तू पचन्क आपुस मँ बाँट लेइ चाही। अब आपन-आपन घरे जा।”

ऍह बरे रूबेन अउ गाद क परिवार समूह अउर मनस्से क आधा परिवार समूह इस्राएल क दूसर लोगन स बिदाइ लिहेन। उ पचे कनान मँ सीलो मँ रहेन। उ पचे उ जगह क तजेन अउर उ पचे गिलाद क लउटेन। इ ओनकर आपन प्रदेस रहा। मूसा ओनका इ प्रदेस दिहे रहा, काहेकि यहोवा ओका अइसा करइ क आदेस दिहे रहा।

10 रूबेन, गाद अउ मनस्से क अधा परिवार समूह क लोग गेलिलोथ नाउँ क जगह क जात्रा किहन। इ यरदन नदी क किनारे कनान देस मँ रहा। उ जगह पइ उ पचे एक ठु सुन्नर वेदी बनाएन। 11 मुला इस्राएल क लोगन क दूसर समूहन, जउन तब तलक सीलो मँ रहेन, उ वेदी क बारे मँ सुनेन जउन ऍन तीनहुँ परिवार समूह बनाए रहेन। उ पचे इ सुनेन कि इ वेदी कनान क सीमा पइ गोत्र नाउँ क जगह पइ रही। इ यरदन नदी क किनारे इस्राएल कइँती रही। 12 इस्राएल क सबहिं परिवार समूह ऍन तीनउँ परिवार समूहन पइ बहोत कोहाइ गएन। उ पचे बटुर गएन अउर उ पचे ओनकइ खिलाफ जुद्ध करइ क निहचय किहन।

13 ऍह बरे इस्राएल क मनइयन कछू लोगन क रूबेन अउर गाद क परिवार समूह अउ मनस्से क आधा परिवार समूह क लोगन स बातन करइ बरे पठएन। इस्राएल क लोग प्रमुख याजक जउन कि एलीआज़र क पूत पीनहास रहा क बात पइ चर्चा करइ बरे पठाएस। 14 उ पचे हुआँ क परिवार समूहन क दस नेतान क पठएन। उ पचे सीलो मँ ठहरेन। इस्राएल क परिवार समूहन मँ हर एक परिवार समूह स एक मनई रहा।

15 इ तरह इ सबइ गियारह मनई गिलाद गएन। उ पचे रूबेन, गाद अउ मनस्से क लोगन स बातन करइ गएन। गियारह मनइयन ओनसे कहेन: 16 “इस्राएल क सबहिं लोग तू पचन्स पूछत हीं: ‘तू पचे इस्राएल क परमेस्सर क खिलाफ इ काहे किह्या ह तू पचे यहोवा क खिलाफ कइसे होइ गया? तू लोग आपन बरे वेदी काहे बनाया? तू पचे जानत अहा कि इ परमेस्सर क सिच्छा क खिलाफ अहइ। 17 पोर नाउँ क जगह क याद करा। [a] हम लोग पाप क कारण अबहुँ कस्ट सहित ह। इ बड़के पाप बरे परमेस्सर इस्राएल क बहोत स लोगन क बुरी तरह बीमार कइ दिहे रहा अउर हम लोग अबहुँ उ बेरामी क कारण कस्ट सहत अही। 18 अउर अब तू पचे उहइ करत अहा। तउ पचे यहोवा क विरुद्ध जात बाट्या। का तू पचे यहोवा क हुकुम क मानइ स मना करब्या? अगर तू पचे जउन करत अहा, बन्द नाहीं करत्या तउ यहोवा इस्राएल क हर मनई प कोहाइ जाइ।

19 “‘अगर तोहार पचन्क प्रदेस उपासना बरे ठीक नाहीं अहइ तउ हमरे प्रदेस मँ आवा। यहोवा क तम्बू हमरे प्रदेसन मँ अहइ। तू पचे हमार कछू पहँटा लइ सकत ह अउर ओहमाँ बसि सकत ह। मुला यहोवा क खिलाफ जिन ह्वा। दूसर वेदी जिन बनावा। हम लोगन क संग पहिले स ही आपन परमेस्सर यहोवा क वेदी यहोवा क संग मलइ बरे खास तम्बू मँ अहइ।

20 “‘जेरह क पूत आकान क सुमिरा। आकान आपन पाप क कारण मरा। उ ओन चीजन क बारे मँ हुकुम क मानइ स इन्कार किहस, जेनका नस्ट कीन्ह जाब रहा। उ एक मनई परमेस्सर क नेम क तोड़ेस, मुला इस्राएल क सबहिं लोगन क दण्ड मिला। आकान आपन पाप क कारण मरा। मुला बहोत स दूसर लोग भी मरेन।’”

21 रूबेन अउ गाद क परिवार समूह क लोग अउर मनस्से क आधा परिवार समूह क लोग इस्राएल क कबीला क प्रमुखन क जवाब दिहन। उ पचे इ कहेन, 22 “हमार परमेस्सर यहोवा अहइ। हम लोग फुन दोहरावत अही कि हमार परमेस्सर यहोवा अहइ [b] अउर परमेस्सर जानत ह कि तू लोग भी इ जाना। तू लोग ओकर फइसला कइ सकत अहा जउन हम लोग किहे अही। अगर तू लोगन क इ बिस्सास अहइ कि हम लोगा पाप किहे अही तउ तू लोग हम पचन्क अबहिं मार सकत ह। 23 अगर हम पचे परमेस्सर क नेम तोड़े अही तु हम कहब कि यहोवा खुद हमका सजा देइ। का तू लोग इ सोचत अहा कि हम लोग इ वेदी क होमबलि चढ़ावइ अउर अन्नबलि अउर मेलबलि चटावइ बरे बनावा ह 24 नाहीं। हम लोग ऍका इ उछेस्य स नाहीं बनावा ह। हम लोग इ वेदी काहे बनावा ह हम पचन्क डर रहा कि भक्स्सि मँ तोहार सबन्क लोग हम पचन्क आपन रास्ट्र क एक ठु हींसा नाहीं समुझिहीं। तब तोहरे लोग इ कहिहीं, ‘तू लोग इस्राएल क परमेस्सर यहोवा क उपासना नाहीं कइ सकत्या। 25 परमेस्सर हम लोगन्क यरदन नदी क दूसर कइँती प्रदेस दिहे अहइ। एकर अरथ इ भवा कि यरदन नदी क सीमा बनावा ह। हमका डर अहइ कि जब तोहरे पचन्क गदेलन बड़ा होइके इ प्रदेस पइ सासन करिहीं तब उ पचे हमका बिसरि जइहीं, कि हम भी तोहार लोग अही। उ पचे हमसे कहिहीं, हे रूबेन अउर गाद क परिवार समूह, तू पचे इस्राएल क हींसा नाहीं अहा!’ तब तोहार संतानन हमरे संतानन क यहोवा क उपासना करइ स रोकिहीं।

26 “ऍह बरे हम लोग इ वेदी क बनावा। मुला हम लोग इ योजना नाहीं बनावत अही कि यह पइ होमबलि चढ़ाउब अउर बलियन क देब। 27 हम पचे जउने सच्चे उद्धेस्य बरे वेदी बनाए रहे, उ आपन लोगन क सिरिफ देखाउब रहा कि हम पचे उ परमेस्सर क उपासना करित ह जेकर तू लोग उपासना करत अहा। इ वेदी तोहरे पचन बरे, हम लोगन बरे अउर भपिस्स मँ हम लोगन क गदेलन बरे इ बात क प्रमाण होइ कि हम लोग परमेस्सर क उपासना करित ह। हम लोग यहोवा क बलियन, अन्नबलि अउ मेलबलि चड़ाइत ह। हम पचे चाहत रहे कि तोहार गदेलन बड़इँ अउर जान लेइँ कि हम लोग भी तोहरी तरह इस्राएल क मनई अही। 28 भविस्स मँ अगर अइसा होत ह कि तोहार गदेलन कहइँ, ‘हम लोग इस्राएल स सम्बंध नाहीं रखित तउ हमार गदेलन तब कहि सकिहीं कि होसियारी स धियान देइँ कि हमार पुरखन, जउन हम पचन स पहिले रहेन, एक ठु वेदी बनाइ रहेन। इ वेदी ठीक वइसे ही अहइ जइसी पवित्तर तम्बू क समन्वा यहोवा क वेदी अहइ। हम लोग इ वेदी क उपयोग बलि देइ बरे नाहीं करत। मुला इ बाने क संकेत करत ह कि हम लोग इस्राएल क एक हींसा अही।’

29 “फुरे तउ इ अहइ कि हम लोग यहोवा क खिलाफ नाहीं होइ चाहित। हम लोग अब ओकर अनुसरण करब तजि देइ नाहीं चाहित। हम लोग जानत अही कि एक मात्र सच्ची वेदी उहइ अहइ जउन पवित्तर तम्बू क समन्वा अहइ। उ वेदी, हमरे परमेस्सर यहोवा क अहइ।”

30 याजक पीनहास अउर दस नेतन रूबेन अउर गाद क परिवार समूह अउ मनस्से क आधा परिवार समूह क लोगन क कही गइ बात सुनेन। उ पचे ओनकइ बात स संतुट्ठ रहेन। 31 ऍह बरे एलीआजार क पूत याजक पीनहास कहेस, “अब हम लोग समुझत अही कि यहोवा हमरे संग अहइ अउर हम लोग जानत अही कि तू पचन मँ स कउनो भी ओकरे खिलाफ नाहीं गवा अहा। हम लोग खुस अही कि इस्राएल क लोगन क यहोवा स सजा नाहीं मिली।”

32 तब पीनहास अउ नेतन उ जगह क तजेन अउर उ पचे आपन घरे चला गएन। उ पचे रूबेन अउर गाद क लोगन क गिलाद प्रदेस मँ तजेन अउर कनान क लउटि गएन। उ पचे लउटिके इस्राएल क लोगन क लगे गएन अउर जउन कछू भवा रहा, ओनसे कहेस। 33 इस्राएल क लोग भी सन्तुट्ठ होइ गएन। उ पचे खुस रहेन अउर उ पचे परमेस्सर क धन्यवाद दिहन। उ पचे निर्णय लिहन कि उ पचे रूबेन, गाद अउ मनस्से क आधा परिवार समूह क लोगन क खिलाफ जाइके नाहीं लड़िहीं। उ पचे ओन प्रदेसन क नस्ट न करइ क निर्णय किहन।

34 अउर रूबेन अउर गाद क लोग कहेन, “इ वेदी सबहिं मनइयन क इ बतावत ह कि हम पचन्क इ बिस्सास बाटइ कि यहोवा परमेस्सर अहइ अउर ऍह बरे उ पचे वेदी क नाँउ ‘प्रमाण’ धरेन।”

Footnotes:

  1. यहोसू 22:17 पोर … करा लखइँ गनती 25:1-18
  2. यहोसू 22:22 हमार … यहोवा अहइ या “यहोवा फुरइ परमेस्सर अहइ! यहोवा फुरइ परमेस्सर अहइ!” सब्द क अरथ “अल इलाहिम यहोवा, अल इलाहिम यहोवा।”
Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes