A A A A A
Bible Book List

यहेजकेल 6Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

तब यहोवा क बचन मोरे लगे फुन आवा। उ कहेस, “मनई क पूत इस्राएल क पर्वतन कइँती मुड़ा। उनके बिरूध नबूवत करा। ओन पर्वतन स इ कहा: ‘इस्राएल क पर्वतो, मोर सुआमी यहोवा कइँती स इ सँदेसा सुना। मोर सुआमी यहोवा पहाड़ियन, पर्वतन, घाटियन अउर खार-खड्डन स इ कहत ह। धियान द्या। मइँ (परमेस्सर) दुस्मन क तू सबन्क खिलाफ लड़इ बरे लिआवत हउँ। मइँ तोहार सबन्क उच्च ठउरन क नस्ट कइ देब। तोहार सबन्क वेदियन क तोरिके टूका-टूका कइ दीन्ह जाइ तोहार सबन्क सुगन्धि चढ़ावइ क वेदियन ध्वस्त कइ दीन्ह जइहीं। अउर मइँ तोहार सबन्क ल्हासन क तोहार सबन्क गन्दी मूरतियन क समन्वा लोकाउब। मइँ इस्राएल क लोगन क ल्हासन क ओनकर देवतन क गन्दी मूरतियन क समन्वा लोकाउब। मइँ तोहार सबन्क हाड़न क तोहरे पचन्क वेदियन क चारिहुँ ओर बिखेरब। जहाँ कहूँ तोहार लोग रहिहीं ओन पइ विपत्तियन अइहीं। ओनकर नगर पाथरन क ढेर बनिहीं। ओनकर उच्च ठउरन नस्ट कीन्ह जइहीं। काहे एह बरे कि ओन पूजा ठउरन क उपयोग दुबारा न होइ सकइ। उ सबइ सबहिं वेदियन नस्ट कइ दीन्ह जइहीं। लोग फुन कबहुँ ओन गन्दी मूरतियन क नाहीं पूजिहीं। ओन सुगन्धि वेदियन क ध्वस्त कीन्ह जाइ। जउन चिजियन तू पचे बनावत ह उ सबइ पूरी तरह नस्ट कीन्ह जइहीं। तोहार लोग मारा जइहीं अउर तब तू जनब्या कि मइँ यहोवा हउँ।’”

परमेस्सर कहेस, “किन्तु मइँ तोहरे कछू लोगन क बच निकरइ देब। उ पचे थोड़े समइ तलक विदेसन मँ रहिहीं। मइँ ओनका बिखेरब अउर दूसर देसन मँ रहइ बरे मजबूर करब। तब उ पचे बचे भए लोग बन्दी बनावा जइहीं। उ पचे बिदेसन मँ रहइ क मजबूर कीन्ह जइहीं। किन्तु उ पचे बचे भए लोग मोका याद रखिहीं। मइँ ओनकर आतिमा क खण्डित किहेउँ। जउने पापन क उ पचे किहेन, ओकरे बरे उ पचे खुद ही घिना करिहीं। बीते समइ मँ उ पचे मोहसे विमुख भए रहेन। अउर दूर होइ ग रहेन। उ पचे आपन गन्दी मूरतियन क पाछे लगे भए रहेन। उ पचे उ समइ मेहरारू क नाई रहेन जउन आपन भतार क तजिके, कउनो दूसर मनई क पाछे धावइ लाग। उ पचे बड़े भयंकर पाप किहन। 10 किन्तु उ पचे समुझ जइहीं कि मइँ यहोवा हउँ अउर उ पचे इ जनिहीं कि जदि मइँ कछू करइ बरे कहब तउ मइँ ओका करब। उ पचे समुझ जइहीं कि उ पचे सब विपत्तियन जउन ओन पइ आई अहइँ, मइँ डाएउँ ह।”

11 तब मोर सुआमी यहोवा मोहसे कहेस, “हाथन स ताली बजावा अउर आपन गोड़ पीटा। ओन सबहिं भयंकर चिजियन क खिलाफ कहा जेनका इस्राएल क लोग किहन ह। ओनका चितउनी द्या कि उ सबइ रोग अउ भूख स मारा जइहीं। ओनका बतावा कि उ पचे जुद्ध मँ मारा जइहीं। 12 दूर क लोग रोग स मरिहीं। समीप क लोग तरवार स मारा जइहीं। जउन लोग नगर मँ बचा रहिहीं, उ पचे भूख स मरिहीं। मइँ तबहिं किरोध करब तजब, 13 अउर सिरिफ तबहिं तू जनब्या कि मइँ यहोवा अहउँ। तू इ तब समुझब्या जब तू आपन ल्हासन क गन्दी मूरतियन क समन्वा अउर वेदियन क चारिहुँ कइँती लखब्या। तोहार पूजा क ओन हर ठउरन क निचके, हर एक ऊँच पहा़ड़ी, पर्वत तथा हर एक हरिअर बृच्छ अउर पत्तेवाले हर एक बाँझ बृच्छ क नीचे, उ सबइ ल्हास होइहीं। ओन सबहिं ठउरन पइ तू आपन बलि-भेंट किहा ह। उ पचे तोहार गन्दी मूरतियन बरे मधुर गन्ध रहिन। 14 किन्तु मइँ आपन हाथ तू लोगन पइ उठाउब अउर तोहका तोहरे लोगन क जहाँ कहूँ उ पचे रहेन, सजा देब। मैं तोहरे देस क नस्ट करब। इ दिबला रेगिस्तान स भी जियादा सूनी होइ। तब उ पचे जनिहीं कि मइँ यहोवा हउँ।”

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes