A A A A A
Bible Book List

नहेमायाह 13Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

नहेमायाह क अन्तिम आदेस

13 उ दिन मूसा क किताब क ऊँचे सुर मँ पाठ कीन्ह गवा ताकि सबहिं लोग ओका सुन सकइँ। मूसा क किताब मँ ओनका इ नेम लिखा भवा मिला कउनो भी अम्मोनी मनई क अउर कउनो भी मोआबी मनई क परमेस्सर क सभन मँ सामिल न होइ दीन्ह जाइ। इ नेम एह बरे लिखा गवा रहा कि उ पचे इस्राएल क लोगन क भोजन या जल नाहीं दिया करत रहेन, अउ उ पचे इस्राएल क लोगन क सराप देइ क बरे बालाम क धन दिया करत रहेन। मुला हमार परमेस्सर उ सराप क हमरे बरे वरदान मँ बदल दिहस। तउ इस्राएल क लोग इ नेम क सुनिके एकर पालन किहन अउर पराए लोगन क संतानन क इस्राएल स अलग कइ दिहन।

किन्तु अइसा होइ स पहिले एल्यासीब तोबियाह क मन्दिर मँ एक ठु बड़की कोठरी दइ दिहस। एल्यासीब परमेस्सर क मन्दिर क भण्डार घरन क अधिकारी याजक रहा। अउर एल्यासीब तोबियाह क घनिस्ठ मीत भी रहा। पहिले उ कोठरी क प्रयोग भेट मँ चढ़ाए गए अन्न, सुगन्ध अउर मन्दिर क बर्तनन अउर दूसर चिजियन क रखइ क बरे कीन्ह जात रहा। उ कोठरी मँ गायकन लेवियन अउर दुआरपालन क बरे अन्न क दसवाँ हींसा, नई दाखरस अउर तेल भी रखा भवा रहेन। याजकन क दीन्ह गए उपहार भी उ कोठरी मँ रखे जात रहेन। किन्तु एल्यासीब उ कोठरी क तोबियाह क दइ दिहे रहा।

जउने समइ इ सब कछू भवा रहा, उ समइ मइँ यरूसलेम मँ नाहीं रहा। मइँ बाबेल क राजा क लगे वापस गवा भवा रहा। जब बाबेल क राजा अर्तछत्र क सासन क बत्तीसवाँ साल रहा, तब मइँ बाबेल गवा रहेउँ। पाछे मइँ राजा स यरूसलेम वापस लउट जाइ क अनुमति माँगेउँ अउर इहइ तरह मइँ यरूसलेम लउट आएउँ। एल्यासीब क इ बुरा काम क बारे मँ मइँ सुनेउँ कि एल्यासीब हमरे परमेस्सर क मन्दिर क दालान क एक कोठरी तोबियाह क दइ दिहस। एल्यासीब जउन किहे रहा, ओहसे मइँ बहोत कोहान रहेउँ। तउ मइँ तोबियाह क चिजियन उ कोठरी स बाहेर निकारि लोकाएउँ। ओन कोठरियन क स्वच्छ अउर पवित्तर बनावइ क बरे मइँ आदेस दिहेउँ अउर फुन ओन कोठरियन मँ मइँ मन्दिर क भाँडी अउर दूसर चिजियन भेट मँ चढावा भवा अन्न अउ सुगन्धित द्रव्य फुन स रखवाइ दिहेउँ।

10 मइँ इ भी सुनेउँ कि लोग लेवियन क ओनकर हीसा नाहीं दिहन ह जेहसे लेवीबंसी अउर गायक अपने खेतन मँ काम करइ बरे वापस चले गएन ह। 11 तउ मइँ ओन अधिकारियन स कहेउँ कि उ पचे गलत अहइँ। मइँ ओन स पूछेउँ, “तू पचे परमेस्सर क मन्दिर क देखभाल काहे नाहीं किहा?” मइँ सबहिं लेवीबंसियन क बटोरेउँ अउर मन्दिर मँ ओनकी जगहन अउ ओनके कामन पइ वापस लउट आवइ क कहेउँ। 12 एकरे पाछे यहूदा क हर कउनो मनई ओनके दसवे हीसे क अन्न, नई दाखरस अउर तेल मन्दिर मँ लिआवइ लगा। ओन चिजियन क भण्डार गृहन मँ रख दीन्ह जात रहा।

13 मइँ एन मनइयन क भण्डार ग्रहन क देखरेख करइवाला नियुक्त किहेउँ: याजक सेलेम्याह, विद्वान सादोक अउ पादायाह नाउँ क एक लेवी साथ ही मइँ पत्तन्याह क पोतन अउर जक्वूर क पूत हानान क ओनकर सहायक नियुक्त कइ दिहेउँ। जक्वूर मत्तन्याह क पूत रहा। मइँ जानत रहेउँ कि ओन मनइयन पइ बिस्सास कीन्ह जाइ सकत रहा। ओन लोगन क कार्य आपन नातेदारन मँ खावइ अउर पीवइ क सामान बाँटइ क रहा।

14 हे परमेस्सर, मोरे कीन्ह गए कामन क तू मोका याद राखा अउर अपने परमेस्सर क मन्दिर अउर ओकरे सेवा कार्यन क बरे बिस्सास क संग जउन कछू मइँ किहेउँ ह, उ सब कछू क तू जिन बिसराया।

15 ओनही दिनन यहूदा मँ मइँ लखेउँ कि लोग सबित क दिन भी काम करत ही। मइँ लखेउँ कि लोग दाखरस बनावइ क बरे रस निकारत अहइँ। मइँ लोगन क अनाज लिआवत अउर ओका गदहन पइ लादत लखेउँ। मइँ लोगन क नगर मँ अंगूर, अंजीर अउ हर तरह क चिजियन लइके आवत भए लखेउँ। उ पचे एन सबहिं चिजियन क सबित क दिन यरूसलेम मँ लिआवत रहेन। तउ एकरे बरे मइँ ओनका चितउनी दिहेउँ। मइँ ओनसे कहि दिहेउँ कि ओनका सबित क दिन खाइ क चिजियन कबहुँ भी नाहीं बेचइ चाही।

16 यरूसलेम मँ कछू सीरी नगर क लोग भी रहा करत रहेन। उ सबइ लोग मछरी अउर दूसर तरह क दूसर चिजियन यरूसलेम मँ लिआवा करतेन अउर ओनका सबित क दिन बेचा करतेन अउर यहूदी ओन चिजियन क बेसहा करत रहेन। 17 मइँ यहूदा क महत्वपूर्ण लोगन स कहेउँ कि उ पचे ठीक नाहीं करत अहइँ। ओन महत्वपूर्ण लोगन स मइँ कहेउँ, “तू पचे इ बहोत बुरा काम करत अहा। तू पचे सबित क दिन भ्रस्ट करत अहा। तू पचे सबित क दिन क एक आम दिन जइसा बनाए डारत अहा। 18 तू पचन्क इ गियान अहइ कि तोहरे पचन्क पुरखन अइसे ही काम किहेन। एह बरे हमरे परमेस्सर हम पइ अउर हमरे नगर पइ बिपत्तियन पठए रहेन अउर बिनास ढाए रहेन। अब तू लोग वइसा ही काम अउर भी जियादा करत अहा, जेहसे इस्राएल पइ वइसी ही बुरी बातन अउर जियादा घटिही काहेकि तू सबित क दिन क बर्बाद करत अहा अउर एका अइसा बनाए डारत अहा जइसे इ कउनो महत्त्वपूर्ण दिन ही नाहीं अहइ।”

19 तउ हर सुववार क साम क साँझ होइ स पहिले ही मइँ इ किहेउँ कि दुआरपालन क आग्या दइके यरूसलेम क दुआर बंद करवाइके ओन पइ ताले डरवाइ दिहेउँ। मइँ इ भी आग्या दइ दिहेउँ कि जब तलक सबित क दिन पूरा न होइ जाइ दुआर न खोले जाइँ। कछू अपने ही लोग मइँ दुआरन पइ नियुक्त कइ दिहेउँ। ओन लोगन क इ आदेस दइ दीन्ह गवा रहा कि सबित क दिन यरूसलेम मँ कउनो भी माल असबाब न आवइ पावइ एका उ पचे सुनिहचित कइ लेइँ।

20 एक आध दाई बइपारियन अउ सौदागरन क यरूसलेम स बाहेर ही रात गुजारइ पडी।

21 किन्तु मइँ ओन बइपारियन अउ सौदागरन क चितउनी दइ दिहेउँ। मइँ ओनसे कहेउँ, “देवार क देवार क आगे न ठहरा करा अउर जदि तू पचे फुन अइसा करब्या तउ मइँ तू पचन्क बंदी बनाइ लेब।” तउ उ दिन क पाछे स सबित क दिन अपना सामान बेचइ बरे उ पचे फुन कबहुँ नाहीं आएन।

22 फुन मइँ लेवीबंसियन क आदेस दिहेउँ कि उ पचे खुद क पवित्तर करइँ। अइसा कर चुकइ क पाछे ही ओनका दुआरन क पहरे पइ जाब रहा। इ एह बरे कीन्ह गवा कि सबित क दिन क एक पवित्तर दिन क रूप मँ रखा गवा ह, एका सुनिहचित कइ लीन्ह जाइ।

हे परमेस्सर! एन कामन क करइ क बरे तू मोका याद राखा। मोरे बरे दयालु हवा अउर मोह पइ अपना महान पिरेम परगट करा।

23 ओनही दिनन मइँ इ भी लखेउँ कि कछू यहूदी मनसेधूअन आसदोद, अम्मोन अउर मोआब पहँटन क मेहररूअन स बियाह किहे भएन ह, 24 अउर ओन बियाहन स पइदा भए आधे बच्चेन तउ यहूदी भाखा क बोलब तलक नाहीं जानत ही। उ पचे बच्चन अस्दौद, अम्मोन अउर मोआब क बोली बोलत रहेन। 25 तउ मइँ ओन लोगन स कहेउँ कि उ पचे गलती पइ अहइँ। ओन पइ परमेस्सर क कहर बरपा होइ। कछू लोगन पइ तउ मइँ चोट ही कर बइठेउँ अउर मइँ ओनके बार उखाड लिहेउँ। परमेस्सर क नाउँ पइ एक प्रतिग्या करइ क बरे मइँ ओन पइ दबाव डाएउँ। मइँ ओनसे कहेउँ, “ओन पराए लोगन क पूतन क संग तू पचन्क अपनी बिटियन क बियाह नाहीं करब अहइ अउर ओन पराए लोगन क बिटियन क भी अपने पूतन स बियाह नाहीं करइ देब अहइ। ओन लोगन क बिटियन क संग तू पचन्क बियाह नाहीं करब अहइ। 26 तू पचे जानत ह कि सुलैमान स इहइ तरह क बियाहन पाप करवाए रहेन। तू पचे जानत ह कि कउनो भी रास्ट्र मँ सुलैमान जइसा महान कउनो राजा नाहीं भवा। किन्तु परमेस्सर सुलैमान स पिरेम करत रहा अउर ओका सुलैमान क समूचे इस्राएल क राजा बनाए रहा। किन्तु ऍतना होइ पर भी बिजातीय मेहररूअन क कारण सुलैमान तलक क पाप करइ पड़ेन। 27 अउर अब का, हम तोहार पचन्क सुनी अउर वइसा ही भयानक पाप करी अउ बिजाति औरतन क संग बियाह कइके अपने परमेस्सर क बरे सच्चे नाहीं रही।”

28 योयादा क एक पूत होरोन क सम्बल्लत क दामाद रहा। योयादा महायाजक एल्यासीब क पूत रहा। तउ मइँ योयादा क उ पूत पइ दबाव डाएउँ कि उ मोरे पास स पराइ जाइ।

29 हे मोरे परमेस्सर! ओनका याद राखा काहेकि उ पचे याजकपन क भ्रस्ट किहे रहेन। उ पचे याजकपन क अइसा बनाइ दिहे रहेन जइसे ओनकर कउनो महत्त्व न होइ। तू याजकन अउ लेवियन क संग जउन वाचा किहे रह्या, उ पचे ओकर पालन नाहीं किहन। 30 तउ मइँ हर कउनो बाहरी चीज क याजकन अउर लेवियन क पवित्तर अउ स्वच्छ बनाइ दिहेउँ ह अउर मइँ हर एक मनसेधू क ओकरे अपने कर्त्तव्य अउ दायित्व भी सौपेउँ ह। 31 मइँ काठे क उपहारन अउर एक निहचित समइ पइ अपने फलन क लिआवइ सम्बन्धी जोजनन भी बनाइ दिहेउँ ह।

हे मोरे परमेस्सर! एन नीक करमन बरे तू मोका याद राखा।

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes