A A A A A
Bible Book List

दूसर इतिहास 1Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

सुलैमान बुद्धि क याचना करत ह

सुलैमान एक बहोत सक्तीसाली राजा बन गवा काहेकि यहोवा ओकरे परमेस्सर, ओकर संग रहा। यहोवा सुलैमान क बहोत जियादा महान बनाएस।

2-3 सुलैमान इस्राएल क सबहिं लोगन स बातन किहस। उ सेना क सेनापतियन, सहस्रपतियन, निआवअधीसन, इस्राएल क सबहिं नेता लोगन अउर परिवारन क प्रमुखन स बातन किहस। तब सुलैमान अउर सबहिं लोग ओकरे संग बटुरेन अउ उ ऊँच जगह क गएन जउन गिबोन नगर मँ रहा। परमेस्सर क मिलाप क तम्बू हुवाँ रहा। यहोवा क सेवक मूसा ओका तब बनाए रहा जब उ अउर इस्राएल क लोग रेगिस्ताने मँ रहेन। दाऊद परमेस्सर क करार क सन्दूख क किर्यत्यारीम स यरूसलेम तलक लिआवा रहा। दाऊद यरूसलेम मँ एका रखइ बरे एक ठु जगह बनाए रहा। दाऊद यरूसलेम मँ करार क सन्दूख बरे एक तम्बू लगाइ दिहे रहा। हूर क पूत ऊरी अउर ऊरी क पूत बसलेल एक काँसे क वेदी बनाए रहा। उ काँसे क वेदी गिबोन मँ पवित्तर तम्बू क समन्वा रही। एह बरे सुलैमान अउर उ सबइ लोग यहोवा स राय लेइ गिबोन गएन। मिलाप क तम्बू मँ यहोवा क समन्वा काँसे क वेदी तलक सुलैमान गवा। सुलैमान एक हजार होमबलि वेदी पइ चढ़ाएस।

उ राति परमेस्सर सुलैमान क लगे आवा। परमेस्सर कहेस, “सुलैमान, मोहसे तू उ माँगा जउन कछू तू चाहत अहा कि मइँ तोहका देउँ।”

सुलैमान परमेस्सर स कहेस, “तू मोरे दाऊद क बरे बहोत वृपालु अहा। तू मोका, मोरे बाप क जगह पइ नवा राजा होइ बरे चुन्या ह। यहोवा परमेस्सर, अब, तू जउन बाचन मोरे पिता दाऊद क दिहा ह ओका बना रहइ द्या। तू मोका अइसी प्रजा क राजा बनाया, जउन पृथ्वी क रेत कणन क नाईं अनगिनत अहइँ। 10 तू मोका बुद्धि अउ गियान द्या। ताकि मइँ एन लोगन क सही रहा पइ लइ चल सकब। कउनो भी मनई तोहरी मदद क बिना तोहार ऍन महान लोगन पइ हुवूमत नाहीं कइ सकत ह।”

11 परमेस्सर सुलैमान स कहेस, “तोहार रूख बिल्वुल ठीक अहइँ। तू धन या सम्पत्ति या सम्मान नाहीं माँग्या ह। तू इ भी नाहीं माँग्या ह कि तोहार दुस्मन मरि जाइँ। तू लम्बी उमिर भी नाहीं माँग्या ह। किन्तु तू अपने बरे बुद्धि अउ गियान मँग्या ह जेहसे तू मोर प्रजा क सम्बन्ध मँ बुद्धिमानी स निर्णय लइ सका, जेकर मइँ तोहका राजा बनाएउँ ह। 12 एह बरे मइँ तोहका बुद्धि अउ गियान देब। मइँ तोहका धन, बैभव अउर सम्मान भी देब। तोहरे पहिले होइवाले राजा लोगन क लगे एतना धन अउर सम्मान कबहुँ नाहीं रहा अउर तोहरे पाछे होइवाले राजा लोगन क लगे भी ऍतना धन अउर सम्मान नाहीं होइ।”

13 तउ सुलैमान गिबोन क आराधना क जगह मँ गवा। जब सुलैमान उ मिलापवाले तम्बू क छोड़ेस अउ यरूसलेम लउट गवा अउ इस्राएल पइ राज्ज करइ लाग।

सुलैमान धन संग्रह अउर अपनी फउज खड़ी करत ह

14 सुलैमान घोड़न अउ रथ अपनी फउज क बरे एकट्ठा करब सुरू किहेस। सुलैमान क लगे एक हजार चार सौ रथ अउर बारह हजार घोड़सवार रहेन। सुलैमान ओनका रथ नगरन मँ रखेस। सुलैमान यरूसलेम मँ भी ओनमाँ स कछू क रखेस, अर्थात हुवाँ जहाँ राजा क निवास रहा। 15 सुलैमान यरूसलेम मँ बहोत सी चाँदी अउ सोना एकट्ठा किहस। उ ऍतना अधिक चाँदी अउ सोना एकट्ठा किहस कि उ चट्टानन स सामान्य होइ गवा। सुलैमान देवदारु क ऍतना लकड़ी बटोरेस कि उ पच्छिमी पहाड़ प्रदेस क गूलर क बृच्छ क नाई सामान्य होइ गइ। 16 सुलैमान, मिस्र अउर वुए स घोड़न मँगाएस। राजा क बइपारियन घोड़न वुए स बेसहेन। 17 सुलैमान क बइपारियन मिस्र स एक रथ चाँदी क छ: सौ सेकेल मँ अउर घोड़ा चाँदी क एक सौ पचास सेकेल मँ बेसहेन। तब बइपारियन घोड़न अउर रथन क हित्ती लोगन क राजा लोगन तथा अराम क राजा लोगन क हाथ बेच दिहस।

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes