A A A A A
Bible Book List

गनती 21Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

कनानीयन स जुद्ध

21 एक कनानी अराद क राजा रहा। उ नेगेव रेगिस्तान मँ रहत रहा। अराद क राजा सुनेस कि इस्राएल क मनइयन अथारीम कइँती जाइवाली सड़क स आवत अहइँ। एह बरे राजा बाहेर निकरा अउ इस्राएल क मनइयन प हमला किहस। उ ओहमाँ स कछू क धइ लिहस अउ ओनका बंदी बनाएस। तब इस्राएल क मनइयन यहोवा क इ बचन दिहन, “हे यहोवा! इ मनइयन क हरावइ मँ हमार मदद करा। ऍनका हमरे मातहत कइ द्या। जदि तू अइसा करब्या तउ हम पचे ओनके सहरन क पूरी तरह बरबाद कइ देब।”

यहोवा इस्राएल क मनइयन क बिनती सुनेस। अउर यहोवा इस्राएल क लोगन स कनानी मनइयन क हरवाइ दिहस। इस्राएल क मनइयन कनानी लोगन अउ ओनके सहरन क पूरी तरह नास कइ दिहन। एह बरे उ ठउरे क नाउँ होरगा पड़ा।

काँसा क साँप

इस्राएल क मनइयन होर पहाड़े क तजेन अउ लाल सागर क जाइवाली सड़क स जात्रा प गएन। उ पचे अइसा एदोम क देस क चारिहुँ कइँती जाइ बरे किहेन। मुला मनइयन क धीरा नाहीं रहा। उ सबइ परमेस्सर अउ मूसा क खिलाफ ओराहना सुरु किहन। मनइयन कहेन, “तू हम सबन क मिस्र स बाहेर काहे लिआया ह? हम पचे हिआँ रेगिस्तान मँ मरि जाब! हिआँ रोटी नाहीं मिलत! हिआँ पानी नाहीं! अउर हम पचे इ सड़ाइंध खइया स घिना करित ह।”

एह बरे यहोवा मनइयन क बीच बिखैला साँपन पठाएस। साँपन ओन मनइयन क डस लिहस अउ बहोत स लोग मरि गएन। लोग मूसा क लगे आएन अउ ओसे कहेन, “हम पचे जानित ह कि जब हम पचे यहोवा अउ तोहरे खिलाफ बोलइ क पाप किहे अहउँ। यहोवा स पराथना करा अउ ओसे कहा कि इ साँपन क दूर करइ।” एह बरे मूसा लोगन बरे पराथना किहस।

यहोवा मूसा स कहेस, “एक ठु काँसा क साँप बनावा अउ ओका एक ठु खम्बा प धरा। अगर कउनो मनई क साँप डसइ तउ उ मनई क खम्बा क ऊपर काँसा क साँप लखइ चाही। तब इ तरह उ मनई मरी नाहीं।” एह बरे मूसा यहोवा क हुकुम मानेस अउ एक काँसा क साँप बनाएस अउ ओका एक खम्बा प धरेस। तब जब कबहुँ कउनो मनई क साँप डसत रहा तउ ओका खम्बा पइ काँसा क साँप क लखइ क होइ रहा। अउ जिअत रहत रहा।

होर पहाड़े स मोआब क घाटी तलक क जात्रा

10 इस्राएल क लोग उ जगह क तजि दिहेन अउ ओबोत नाउँ क जहग प सिबिर डाएन। 11 तब मनइयन ओबोत स इये अबारीम तलक क जात्रा किहन। अउर हुआँ सिबिर डाएन। इ मोअब क पूरब रेगिस्तान मँ रहा। 12 तब मनइयन उ ठउर क छोड़ दिहन अउर जेरेद घाटी क जात्रा किहन। उ पचे हुवाँ सिबिर डाएन। 13 तब उ पचे चलेन अउ रेगिस्तान क अनोर्न नदी क ओह पार सिबिर डाएन। इ नदी एमोरियन क चउहद्दी स सुरु होत रही। घाटी मोआब क चउहद्दी अउ एमोरी क बीचउ बीच रही। 14 इहइ कारन अहइ कि यहोवा क जुद्ध किताबे मँ नीचे लिखा भवा हाल मिलत ह।

“अउर सूपा मँ बाहेब, अनोर्न क घाटी। 15 अउर अर क बस्ती तलक पहोंचावइ वाली घाटी क किनारे क पहाड़ी। इ ठउर मोआब क चउहद्दी प अहइँ।”

16 इस्राएल क मनइयन उ ठउर क तजेन अउर उ पचे बीर क जात्रा किहन। इ ठउर प एक ठु इनार रहा। यहोवा मूसा स कहेस, “हिआँ सबहिं मनइयन क बटोरा अउर मइँ ओनका पानी देब।” 17 तब इस्राएल क मनइयन गीत गाएन:

“ए इनारा! उमड़िके पानी बहाउ।
    एकर गीत गावा।
18 महा पुरखन इ इनारा क खोदेन।
    सज्जन लोग इ इनारा क खोदेन।
उ पचे आपन राज-दण्डियन अउर लाठियन स ऍका खोदेन।
इ रेगिस्तान मँ एक ठु भेंट अहइ।”

(तउ मनइयन ऍका “मत्ताना” नाउँ क इनारा कहेन।)

19 तब मनइयन मत्ताना स नहलीएल क जात्रा किहेन। फुन उ पचे नहलीएल स बामोत क जात्रा किहन। 20 मनइयन बामोत स मोआब मँ घाटी तलक क जात्रा किहन। इ ठउरे प पिसगा पहड़ क चोटी रेगिस्तान क ऊपर देखाँइ पड़त ह।

सिहोन अउ ओगाँ

21 इस्राएल क मनइयन कछू मनइयन क एमोरी लोगन क राजा सीहोन क लगे पठाएस। इ मनइयन राजा स कहेन,

22 “आपन देस स होइ के हमका जात्रा करइ द्या। हम पचे कउनो खेत या अंगूरे क बगिया स होइके न जाब। हम पचे तोहरे कउनो इनारा क पानी न पिअब। हम सबइ सिरिफ राज-पथ स होइके जात्रा करब। हम सबइ तब तलक उ सड़क प ठहरब जब तलक हम पचे तोहरे देसे स होइके जात्रा पूरी नाहीं कइ लेइत।”

23 मुला राजा सीहोन इस्राएल क लोगन क आपन देस स होइके जात्रा करइ क रजामन्दी नाहीं दिहस। राजा आपन फउज बटोरेस अउ रेगिस्ताने कइँती चल पड़ा। उ इस्राएल क खिलाफ हमला करत रहा। यहज नाउँ क एक ठउरे प राजा क फउज इस्राएल क लोगन क संग लड़ाई लड़ेस।

24 मुला इस्राएल क लोगन राजा क मारि डाएन। तब उ पचे अनोर्न घाटी स लइके यब्बाक इलाका तलक ओकरे पहँटा प कब्जा कइ लिहेन। इस्राएल क मनइयन अम्मोनी लोगन क हद तक क पहँटा प कब्जा किहन। उ पचे अउर जियादा इलाका प कब्जा नाहीं किहन काहे की उ हद अम्मोनी लोगन क जरिए सुरच्छित रही। 25 मुला इस्राएल अम्मोनी लोगन क सबहिं सहरन प कब्जा कइ लिहन। उ पचे हेसबोन नगर तलक अउ ओकरे चारिहुँ कइँती क छोटके सहरन क भी हराइ दिहन। 26 हेसबोन उ सहर रहा जेहमा राजा सीहोन रहत रहा। ऍकरे पहिले सीहोन मोआब क राजा क हराए रहा अउ सीहोन अनोर्न घाटी ताईं सब पहँटन प कब्जा कइ लिहे रहा। 27 इहइ कारण अहइ कि गवइया इ गीत गावत हीं:

“आवा हेसबोन क ऍका फुन स बसावइ क बाटइ।
    सीहोन क सहरन क फुन स बनइ द्या।
28 काहेकि आगी हेसबोन सहर स बाहेर चले गएस,
    अउर सोला सीहोन सहर स बाहेर चला गवा।
आगी मोआब मँ आर क नस्ट कइ दिहस।
    इ अनोर्न नदी क ऊपरी पहाड़ियन क सासकन क बार दिहस।
29 हे मोआब! इ तोहरे बरे बुरा बाटइ, कामोस क मनई बरबाद कइ दीन्ह ग बाटेन।
    ओकर पूतन भाग पराइ गएन।
ओकर बिटियन बन्दी बनाइ गइन।
    अमानीत लोगन क राजा सीहोन क जरिये।
30 मुला हम पचे ओनॅ एमोरियन क हरावा,
    हम सबइ ओनका हेसबोन स दिबान तलक सहरन क, नसिम स नोपह तलक जउन मेदाब क निचके अहइ मिटाइ द्या।”

31 एह बरे इस्राएल क मनइयन एमोरियन लोगन क देस मँ रहेन।

32 मूसा कछू खुफिया लोगन क याजेर प नजर धरइ बरे पठाएस। मूसा क अइसा करइ क पाछे इस्राएल क मनइयन उ सहर प कब्जा कइ लिहन। उ पचे ओकरे चारिहुँ कइॅती क छोटके सहरन प भी कब्जा कइ लिहन। इस्राएल क मनइयन उ ठउरे प बसइया एमोरी लोगन क उ ठउर तजि देइ क मजबूर किहन।

33 तब इस्राएल क लोग बासान कइँती जाइवाली सड़क प जात्रा किहन। बासान क राजा ओग आपन फउज लिहस अउ इस्राएल क लोगन क मुकाबाला करइ निकरा। उ एद्रेइ नाउँ क पहँटा मँ ओनके खिलाफ लड़ा।

34 मुला यहोवा मूसा स कहेस, “उ राजा स जिन सिबिरअ। मइँ तोहका ओका हरावइ देब। तू ओकर पूरी फउज अउ पहॅटा क पउब्या। तू ओकरे संग उहइ करा जउन तू एमोरी लोगन क राजा सिहोन क संग किहा ह।”

35 एह बरे इस्राएल क लोगन ओग अउ ओकर फउज क हाराया। उ सबइ ओका, ओकर बेटवन अउ ओकर सारी फउज क हराएन। तब इस्राएल क मनइयन ओकरे पूरे देस क कउनो क बिना जिउत छोड़इ क कब्जा कइ लिहन।

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes