A A A A A
Bible Book List

ओबद्याहAwadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

एदोम दण्डित होइ

इ ओबद्याह क दर्सन अहइ। मोर सुआमी यहोवा एदोम क बारे मँ इ कहत ह:

हम यहोवा परमेस्सर स इ संदेस पाइ गए ह।
    रास्ट्रन क एक ठु दूत पठवा गवा ह।
उ कहेस, “हम पचन क एदोम क खिलाफ लड़इ बरे चलइ द्या।”

यहोवा एदोम स कहत ह

“एदोम, मइँ तोहार सबन त नान्ह रास्ट्र बनाइ देब।
    लोग तोहसे बहोत घिना करिहीं।
तू आपन घमण्ड क जरिये छला गवा अहा।
    तू उँचकी पहाड़ियन क गुफन मँ रहत बाट्या।
    तोहार घर पहाड़ियन मँ उँचाई प बाटइ।
तू आपन मने मँ कहत अहा,
    ‘मोका कउनो भी धूरी नाहीं चटाइ सकत।’”

एदोम नीच कीन्ह जाइ

परमेस्सर यहोवा इ कहत ह:
“जदपि तू उकाब क तरह ऊपर उड़ा,
    अउर आपन धोसला तारन क बीच बनाइ ल्या,
    तउ भी मइँ तोहका हुआँ स खाले उतारबउँ।
तू फुरइ बरबाद होइ जाब्या। देखा।
    कउनो चोर तोहरे हिआँ आवत हीं।
जब, राति मँ डावू आवत ही।
    तउ उ पचे भी ओतना ही चोराइके या लूटिके लइ जात ही जेतँना लइ जाइ सकत ही।
तोहार बगियन मँ जब मजदूर अंगूर तोरइ आवत हीं
    तउ अंगूर तोरइ क पाछे उ पचे कछू न कछू अंगूर छोड़िके जात हीं।
मुला हे एदोम।
तोहसे तोहार सब कछू छोर लीन्ह जाइ।
    लोग तोहरे सबहिं खजानन क हेरि लेइहीं अउर हथियाइ लेइही।
उ सबइ लोग जउन तोहार मीत अहइँ,
    तोहका देस स बाहेर जाइ का मजबूर करिहीं।
तोहार संग सान्ति स रहइवालन
    तोहका धोखा देइही अउर तोहका हरइहीं।
उ सबइ लोग जउन तोहार रोटिन्क तोहार संग खावात ह
    तोहार बरे फंदा डावइ क जोजना बनाव ह।
‘तू ऍका नाहीं समुझ सकब्या।’”

यहोवा कहत ह: “ओह दिन,
    मइँ सदोम क बुदिधमान लोगन्क बरबाद करब
    अउ मइँ एसाव पहाड़े स समुझदारी क नास करब।
तबहिं, हे तेमान, तोहार सक्तीसली लोग भयभीत होइहीं
    अउर एसाव पहाड़े क हर मनई मारि जाब्या।
10 तू सरम स धँसि जाब्या,
    अउर तू हमेसा बरे बरबाद होइ जाब्या।
    काहेकि आपन भाई याकूब बरे तू पचे ऍतना कूर निकरया।
11 ओह समइ, तू इस्राएल क दुस्मन होइ गवा।
    अजनबी याकूब क खजाना लइ गया।
बिदेसी लोग इस्राएल क नगर-दुआर मँ घुसेन।
    उ बिदेसी लोग गोट डाइके इ निहचय किहेन कि उ पचे यरूसलेम क कउन स हींसा लेइही।
    तउ उ समइ तू ओन लोगन क दुस्मनन क नाईं रह्या।
12 तू आपन भाई क बिपत काल मँ हँस्या,
    तू इ नाही करइ चाही रह्या
तू पचे तबहिं खुस रह्या
    जबहिं लोग यहूदा क बरबाद किहेन।
तू वइसा नाहीं करइ चाही रह्या।
    ओनकर बिपत क समइ तू ओनकर खिल्ली ओड़ॉया।
13 तू मोरे लोगन्क नगर-दुआर मँ घुस्या
    अउर ओनकर समस्यन पइ हँस्या।
अउर तोहका अइसा नाहीं करइ क चाही रहा।
    तोहका ओकरे खजानन क दूसर दुस्मनन क नाईं नाहीं लेइ चाही रहा।
14 तोहका ओन लोगन्क चोराहे पइ नाहीं धइ चाही
    जउन बचिके निकरत चाहत रहा
    अउर तोहका ओका ओकरे दुस्मनन क वापिस नाहीं देइ चाही रहा।
15 सबहिं रास्ट्रन पइ हाली ही यहोवा क दिन आवत अहइ।
    तू दूसर लोगन क संग बुरा किहा।
उ सबइ ही बुरइयन तोहार संग घटिहीं।
    उ सबइ बुरइयन तू तोहार कपारे पइ उतरि अइही।
16 काहेकि तू दाखरस पीके मोरे पवित्तर पहाडे पइ खुसी मनाया।
    वइसेन ही सबहिं जातियन लगातार मोरे सजा क पीइहीं
अउर ओका निगरि जइही
    अउ ओनकर लोप होइ जाइ।
17 सिय्योन पहाड़ी पइ रहत रहा
    जिअत बचा भवा लोग मोर खास लोग होब्या।
याकूब क रास्ट्र ओन चिजियन क वापस पाई
    जउन ओकर रहिन।
18 याकूब क परिवार बरत आगी जइसा होई।
    यूसुफ क रास्ट्र बरत लपटन जइसा बनि जाइ।
सिरिफ एसाव क रास्ट्र राखी क नाई होइ।
    यहूदा क लोग
    एदोमी लोगन क बरबाद करिहीं।
एसाव क रास्ट्रन मँ कउनो जिअत नाही रही।”
    काहेकि परमेस्सर यहोवा अइसे कहेस।
19 तब नेगव क लोग एसाव पर्वते पइ रइही
    अउर पर्वतन क तराइयन क लोग पलिस्ती प्रदेस क लइ लेइही।
परमेस्सर क उ सबइ लोग एप्रैम अउ सोमरोन क भुइँया पइ रइही।
    गिलाद, बिन्यामीन क होइ।
20 इसाएल क लोग जउन आपन घर तजि देइ क मजबूर कीन्ह ग रहेन
    कनान क भूइँया पइ सारपत तलक कब्जा करिहीं।
यरूसलेम क लोगन जउन कैद कीन्ह ग रहेन अउर सपाराद लई गए रहेन
    उ पचे नेगेव सहर पइ कब्जा करिहीं।
21 बिजयी लोग सिय्योन पर्वते पइ होइही।
    उ सबइ लोग एसाव पहाड़े क बसइयन पइ सासन करिही
    अउर राज्ज यहोवा क होइ।

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version (ERV-AWA)

Awadhi Bible: Easy-to-Read Version Copyright © 2005 World Bible Translation Center

  Back

1 of 1

You'll get this book and many others when you join Bible Gateway Plus. Learn more

Viewing of
Cross references
Footnotes